Waqf Board enforces dress code and NCERT syllabus in madrassas

मदरसों में अब ड्रेस कोड और NCERT पाठ्यक्रम होगा लागू, वक्फ बोर्ड का बड़ा फैसला

Waqf Board enforces dress code and NCERT syllabus in madrassas वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष शादाब शम्स ने कहा मदरसों में NCERT पाठ्यक्रम लागू करेंगे

Edited By: , November 29, 2022 / 08:53 PM IST

Waqf Board enforces dress code and NCERT syllabus: देहरादून। उत्तराखंड वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष शादाब शम्स ने कहा कि हमें राज्य में मदरसों के आधुनिकीकरण पर लोगों से अच्छी प्रतिक्रिया मिल रही है। हम मदरसों में एनसीईआरटी पाठ्यक्रम लागू करेंगे और समय स्कूलों जैसा होगा।

नए कलेवर में नजर आएंगे उत्‍तराखंड के मदरसे

नए साल से उत्तराखंड वक्फ बोर्ड के अधीन राज्य में संचालित 103 मदरसे नए कलेवर में नजर आएंगे। बोर्ड के अध्यक्ष शादाब शम्स के अनुसार अंग्रेजी माध्यम वाले स्कूलों की तर्ज पर मदरसों में ड्रेस कोड तय किया जाएगा। उन्होंने बताया कि बोर्ड ने सात मदरसों को माडर्न बनाने का निश्चय किया है।

Read more: नाराज अनुदेशक ने छात्र के हाथ पर चलाई ड्रिल मशीन, परिजनों के उड़े होश, देखें वायरल वीडियो 

स्‍कूलों की तर्ज पर ही संचालित होंगे मदरसे

वक्‍फ बोर्ड के अध्यक्ष शादाब शम्स के बताया कि मदरसा अरेबिक शब्द है, जिसका अर्थ है स्कूल। इसे देखते हुए बोर्ड ने तय किया है कि मदरसों को स्‍कूलों की तर्ज पर ही संचालित किया जाए। उन्होंने बताया कि मदरसों को अंग्रेजी माध्यम स्कूलों की भांति चलाया जाएगा। इसके लिए उत्तराखंड बोर्ड से मान्यता ली जाएगी।

ये मदरसे बनेंगे माडर्न

Waqf Board enforces dress code and NCERT syllabus: उत्तराखंड वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष शादाब शम्स ने बताया कि देहरादून, हरिद्वार व ऊधमसिंह नगर जनपद में दो-दो और नैनीताल जिले में एक मदरसे को माडर्न मदरसा बनाने के लिए चयनित किया है। इन मदरसों में स्मार्ट कक्षाएं भी चलेंगी।

छात्रों के सामने होंगे विकल्‍प

उन्होंने बताया कि बोर्ड ने हाफिज-ए-कुरान की पढ़ाई चार साल के बजाए 10 साल करने का निर्णय लिया है। तब तक यह पढ़ाई करने वाला बच्चा 10 अथवा 12वीं पास कर लेगा। इसके बाद उसके सामने विकल्प होगा कि वह दीनी शिक्षा में जाना चाहता है या फिर डाक्टर, इंजीनियर आदि बनना चाहता है।

Read more: Car Modify Rule: कार में ये बदलाव किए तो सस्पेंड होगा लाइसेंस, साथ ही जब्त हो जाएगी आपकी गाड़ी 

शिक्षकों की नियुक्ति की जाएगी

Waqf Board enforces dress code and NCERT syllabus: शम्स ने बताया कि एनसीईआरटी के पाठ्यक्रम को पढ़ाने के लिए शिक्षकों की नियुक्ति की जाएगी। कहा कि मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी और समाज कल्याण मंत्री चंदन राम दास ने मदरसों के आधुनिकीकरण के लिए पूर्ण सहयोग का भरोसा दिलाया है। इसके साथ ही मदरसों में संसाधन जुटाने के लिए सीएसआर फंड की मदद ली जाएगी।

IBC24 की अन्य बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें