आमिर खान ने किया खुलासा, बताया दो साल की रिसर्च के बाद आखिर क्यों रोक दिया महाभारत पर काम, जानें ये वजह

आमिर खान ने किया खुलासा, बताया दो साल की रिसर्च के बाद आखिर क्यों रोक दिया महाभारत पर काम, जानें ये वजह

: , March 12, 2021 / 01:17 AM IST

मुंबई। बॉलीवुड एक्टर आमिर खान ने अपकमिंग फिल्म महाभारत को लेकर बड़ा खुलासा किया है। बताया कि आखिर दो साल की रिसर्च के बाद महाभारत पर काम को क्यों रोक दिया। आमिर खान ने कहा कि महाभारत को बनाने का अभी सही समय नहीं है।

Read More News: राहुल गांधी ने इंदिरा गांधी के शासनकाल में इमरजेंसी के फैसले को माना गलत, जानिए

अभिनेता आमिर खान अपने काम को पूरे परफेक्शन के साथ करने में यकीन रखते हैं। हर छोटी से छोटी किरदार पर बखूबी काम कर अपनी छाप छोड़ देते है। जिसके चलते लोग उन्हें मिस्टर परफेक्शनीस्ट भी कहते हैं। वहीं दूसरी ओर लोगों को लंबे समय से आ​मिर खान की महाभारत का इंतजार है। इस फिल्म को लेकर आमिर खान सुर्खियों में भी आए। लेकिन अब खबर मिल रही है कि आमिर इस फिल्म को फिलहाल रोक दिया है। इसके पीछे की वजह आखिर खान ने बताया है।

Read More News: किसान संगठनों ने किया चुनावी राज्यों की ओर रूख, 12 मार्च को पश्चिम बंगाल में रैली का ऐलान

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, “आमिर खान अपनी जिंदगी के 2 साल एक वेब सीरीज को बनाने में नहीं खपाना चाहते हैं। वह चाहते हैं कि सितारों से सजी किसी फीचर फिल्म में वह जल्द ही अपनी मौजूदगी दर्ज कराएं जिसका निर्देशन किसी भरोसेमंद निर्देशक ने किया हो।” मालूम हो कि आमिर खान पिछली बार फिल्म ठग्स ऑफ हिंदोस्तान में नजर आए थे। ये फिल्म तकरीबन 3 साल पहले रिलीज हुई थी और तब से आमिर गायब हैं।

Read More News: बजट ब्रह्मास्त्र! मंजिलें भी जिद्दी हैं….रास्ते भी जिद्दी हैं…हम सफल होंगे क्योंकि हमारे हौसले भी जिद्दी हैं..

बता दें कि आमिर खान ने महाभारत के लिए तकरीबन 2 साल तक कड़ी रिसर्च की। लेकिन अब इस महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट को फिलहाल होल्ड पर डालने का फैसला किया है? मीडिया रिपोर्ट के अनुसार आमिर खान ने कहा कि महाभारत को बनाने का अभी सही समय नहीं है। बता दें कि महाभारत जैसी व्यापक कहानी को एक फिल्म में समाहित कर पाना बहुत मुश्किल काम है इसलिए मेकर्स ने इसे बतौर वेब सीरीज बनाने का फैसला किया था।

Read More News: बजट ब्रह्मास्त्र! गांव, गरीब, मजूदर और किसान पर रहा भूपेश सरकार के तीसरे बजट का फोकस