MPPSC 2020 प्री एग्जाम के परिणाम घोषित, राज्य सेवा में 7711 उम्मीदवार हुए क्वालीफाई

MPPSC 2020 प्री एग्जाम के परिणाम घोषित, राज्य सेवा में 7711 उम्मीदवार हुए क्वालीफाई

: , January 16, 2022 / 01:54 PM IST

MPPSC 2020 Pre Exam Result

भोपाल। MPPSC 2020 प्री एग्जाम के परिणाम घोषित कर दिए गए हैं, पहली बार 20 गुना उम्मीदवारों का चयन हुआ है, 27% के अनुपात में OBC वर्ग का चयन किया गया है। सामान्य प्रशासन विभाग की आयोग ने सिफारिश मान ली है। वहीं इस बार राज्य सेवा में 7711 उम्मीदवार क्वालीफाई हुए हैं, राज्य वन सेवा में 3129 उम्मीदवार अगले दौर के लिए क्वालीफाई हुए हैं।

ये भी पढ़ें: UP Election: अखिलेश के घर में स्ट्राइक! मुलायम सिंह की छोटी बहू अपर्णा यादव भाजपा में हो सकती हैं शामिल

MPPSC Prelims 2020: मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग (MPPSC) ने राज्य सेवा और राज्य वन सेवा प्रीलिम्स परीक्षा MPPSC Prelims 2020 का रिजल्ट 15 जनवरी, 2022 को घोषित कर दिया गया है। जिन उम्मीदवारों ने इस एग्जाम में भाग लिया था वह आयोग की ऑफिशियल वेबसाइट mppsc.nic.in पर जाकर अपना रिजल्ट चेक कर सकते हैं।

राज्य सेवा और राज्य वन सेवा दोनों में भर्ती के लिए MPPSC Prelims 2020 एग्जाम का आयोजन 25 जुलाई, 2021 को दो पालियों में किया गया था। आयोग ने सफल उम्मीदवारों के रोल नंबरों की सूची के साथ-साथ कट ऑफ अंक भी जारी किए हैं।

ये भी पढ़ें: MPPSC 2020 प्री एग्जाम के परिणाम घोषित, राज्य सेवा में 7711 उम्मीदवार हुए क्वालीफाई

MPPSC Prelims 2020: ऐसे चेक कर सकते हैं रिजल्ट

स्टेप 1: उम्मीदवार सबसे पहले मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग की आधिकारिक वेबसाइट – mppsc.nic.in पर जाएं।
स्टेप 2: वेबसाइट के होमपेज पर दिए गये लिंक ‘ Result – State Service Preliminary Examination 2020, Cut Off Marks’ पर क्लिक करें।
स्टेप 3: उम्मीदवारों के सामने एक पीडीएफ खुल जाएगी।
स्टेप 4: पीडीएफ में सफल उम्मीदवारों के रोल नंबर होंगे।
स्टेप 5: कैंडिडेट इन पीडीएफ को डाउनलोड भी कर सकते हैं।

MPPSC State Service Prelims 2020 Cut off:

अनारक्षित वर्ग : ओपन – 140, महिला – 138
अनुसूचित जाति : ओपन – 130, महिला – 128
अनुसूचित जनजाति : ओपन -120, महिला- 118
अन्य पिछड़ा वर्ग : ओपन – 132, महिला – 130
आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग : ओपन – 132, फीमेल – 130

प्रारंभिक परीक्षा परिणाम फाइनल आंसर की के आधार पर तैयार किया गया है, जो आपत्तियों को शामिल करने के बाद जारी की गई थी।