Politics heats up in Madhya Pradesh over Udaipur murder case

राजस्थान की आग.. मध्यप्रदेश में आंच, उदयपुर हत्याकांड को लेकर गरमाई सियासत

राजस्थान की आग.. मध्यप्रदेश में आंचः Politics heats up in Madhya Pradesh over Udaipur murder case

Edited By: , June 30, 2022 / 12:00 PM IST

(रिपोर्टः सुधीर दंडोतिया)  Udaipur murder case भोपालः उदयपुर में दिन दहाड़े गर्दन काटकर कन्हैया की हत्या करने वाले दोनों आरोपी मोहम्मद रियाज़ और गौस मोहम्मद अब पुलिस गिरफ्त में है। इस वक्त राजस्थान के साथ ही पूरे देश में हालात तनावपूर्ण है। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत देश में तनाव का ताना मारकर पीएम मोदी को घेर रहे हैं। बीजेपी गहलोत सरकार की तुलना तालिबानी राज से कर रही है और इस घटना के पीछे सीधे कांग्रेस को जिम्मेदार ठहरा रही है। इधर भोपाल में वो लोग भी अब शांति की अपील कर रहे हैं, जिन्होंने नूपूर शर्मा के बयान पर देश में ऐसा माहौल बनाया कि उसकी जान लेना मुसलमानों का मज़हबी फर्ज है। बहरहाल हमारी और आपकी कोशिश यही होनी चाहिए कि राजस्थान में लगी आग की आंच दूसरे प्रदेशों में न फैलने पाएं।>>*IBC24 News Channel के WhatsApp  ग्रुप से जुड़ने के लिए Click करें*<<

Read more : ‘गोधन’ ने बना दी जोड़ी: गोबर बेचकर हुई बंपर कमाई तो बदल गई युवक की जिंदगी, शादी में आ रही रुकावट हुई दूर 

Udaipur murder case उदयपुर में टेलर कन्हैया लाल की हत्या के बाद राजस्थान समेत पूरे देश में उबाल है। लोग सड़कों पर उतरकर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। आक्रोश की आग एमपी की सड़कों में धधक रही है। उदयपुर में जिस बर्बरता के साथ कन्हैया की हत्या हुई, उसके बाद भोपाल में गहलोत सरकार बीजेपी और हिंदू संगठनों के निशाने पर है। इधर सांसद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने भी गहलोत सरकार को हिंदुओं का हत्यारा करार देते हुए इस्तीफे की मांग की है. बीजेपी सांसद ने ट्वीट कर लिखा.. धिक्कार है हिंदुओं की हत्यारी राजस्थान की कांग्रेस सरकार इस्तीफा दे। कांग्रेस पोषित आतंकवाद की योजना का क्रियान्वयन राजस्थान से पुनः प्रारंभ। संभलकर हिंदू, हिंदुस्तान कांग्रेस अभी भी जिंदा है और देश शर्मिंदा है।

Read more : चिरमिरी में होगी पॉलिटेक्निक कॉलेज की स्थापना, खड़गवां में खुलेगा स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल, सीएम भूपेश ने किया ऐलान

जाहिर है कन्हैया की हत्या को लेकर लोगों में बेहद गुस्सा है। पुलिस की कार्यशैली पर तो सवाल उठ रहे हैं। बीजेपी पूरी घटना के लिए राजस्थान सरकार की बड़ी चूक मान रही है। उदयपुर में सामने आई तालिबानी हरकत के बाद मध्यप्रदेश में सरकार सतर्क है तो सियासत भी शुरू हो गई है।

Read more : पनीर, दही और छाछ होगा महंगा, आटे की खरीदी पर भी देने पड़ेगे ज्यादा पैसे, जानिए और क्या-क्या चीज हुए महंगे 

बहरहाल बुधवार को कन्हैयालाल का अंतिम संस्कार किया गया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में उसके शरीर में घाव के 26 निशान मिले हैं। गृह मंत्रालय ने मामले की जांच NIA को सौंप दी है। पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। लेकिन बीजेपी पुलिस की कार्यशैली और राजस्थान की कानून व्यवस्था पर लगातार सवाल खड़े कर रही है।

 

 

#HarGharTiranga