Today Shivraj cabinet meeting

2 करोड़ रुपए होगा राज्यपाल का स्वेच्छानुदान! शिवराज कैबिनेट की बैठक में इन अहम प्रस्तावों पर होगी चर्चा

Today Shivraj cabinet meeting : सुबह 11:00 बजे होने वाली कैबिनेट बैठक में कई अहम प्रस्तावों को मंजूरी मिल सकती है

Edited By: , April 5, 2022 / 10:24 AM IST

भोपाल। Today Shivraj cabinet meeting  :  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में आज कैबिनेट की बैठक होने जा रही है। सुबह 11:00 बजे होने वाली कैबिनेट बैठक में कई अहम प्रस्तावों को मंजूरी मिल सकती है। जिसमें प्रदेश के 5 जिलों में औद्योगिक पार्क बनाने का प्रस्ताव, प्रदेश में निवेश को आकर्षित करने के लिए भोपाल, रतलाम, सीहोर, धार और नरसिंहपुर में औद्योगिक पार्क बनाने का प्रस्ताव वित्त विभाग ने बनाया है जिसे आज कैबिनेट में पेश किया जाएगा।चर्चा होने के बाद इसे मंजूरी मिल सकती है।

यह भी पढ़ें:  समर्पण निधि अभियान को सहयोग नहीं करने वाले नेताओं के खिलाफ एक्शन मोड पर BJP, जिला अध्यक्षों से मांगी रिपोर्ट

Today Shivraj cabinet meeting  :  उम्मीद की जा रही है कि इन क्षेत्रों में करीब 32 हजार करोड़ का निवेश हो सकता है। सरकार भूखंड विकसित करके देगी। इसके अलावा राज्यपाल की अनुदान राशि बढ़ाए जाने का प्रस्ताव भी आज का डेट में पेश किया जा सकता है।

वहीं KCC पर 0% ब्याज पर शॉर्ट टर्म लोन देने के प्रस्ताव को भी मंजूरी मिल सकती है। इसके अलावा विश्वविद्यालय संशोधन विधेयक, प्रधान मुख्य वन संरक्षक के 4 नए पद सृजन के प्रस्ताव को भी कैबिनेट में मंजूरी मिल सकती है।

यह भी पढ़ें: जेल में दंगा.. बंदूकों और चाकुओं से लैस गिरोहों के बीच भीषण संघर्ष, 20 की मौत

राज्यपाल का स्वेच्छानुदान 2 करोड़ होगा

Today Shivraj cabinet meeting  :  मध्यप्रदेश में अब राज्यपाल का स्वेच्छानुदान 2 करोड़ होगा, राज्य सरकार राज्यपाल के स्वेच्छानुदान में वृद्धि करने जा रही है। अभी राज्यपाल का स्वेच्छानुदान 1 करोड़ रुपए है, जिसे बढ़ाकर 2 करोड़ रुपए किया जा रहा है। इसी तरह 1 लाख रुपए तक प्रति व्यक्ति मदद कर सकेंगे। अभी तक यह सीमा 50 हजार रुपए है। राज्यपाल का स्वेच्छानुदान बढ़ाए जाने के बारे में आज होने जा रही कैबिनेट की बैठक में विचार किया जाएगा।

यह भी पढ़ें: सरकारी खजाने में आया भरपूर राजस्व, कोरोना काल के मुकाबले राजस्व आय में 17.13 % की हुई वृद्धि

कैबिनेट में अन्य प्रमुख बिंदुओं पर भी चर्चा होगी। इसके साथ ही अभिभाषक संघों को पुस्तकालय में पुस्तकें खरीदे जाने के वित्तीय अधिकार बढ़ाए जाने, प्रदेश में कार्यरत क्षेत्रीय ग्रामीण बैकों की पूंजी में राज्यांश बढ़ाए जाने के बारे में फैसला लिया जाएगा।

 

#HarGharTiranga