भारतीय टीम में प्रतिभा है, टी20 विश्व कप जीतने के लिये परिपक्वता दिखाने की जरूरत : गांगुली

भारतीय टीम में प्रतिभा है, टी20 विश्व कप जीतने के लिये परिपक्वता दिखाने की जरूरत : गांगुली

Edited By: , October 18, 2021 / 05:25 PM IST

दुबई, 16 अक्टूबर (भाषा) भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) अध्यक्ष और पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने शनिवार को कहा कि विराट कोहली की अगुवाई वाली टीम में टी20 विश्व कप के उचित दावेदार के रूप में हर तरह की प्रतिभा मौजूद है और ट्राफी जीतने के लिये टीम को बस थोड़ी परिपक्वता दिखाने की जरूरत है।

भारतीय टीम अपने टी20 विश्व कप अभियान की शुरूआत चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान के खिलाफ 24 अक्टूबर को करेगी।

गांगुली से जब पूछा गया कि भारत को खिताब जीतने के लिये क्या करने की जरूरत है तो उन्होंने कहा, ‘‘आप आसानी से चैम्पियन नहीं बनते और आप सिर्फ टूर्नामेंट में प्रवेश से भी चैम्पियन नहीं बनते इसलिये आपको एक प्रक्रिया से गुजरना होगा और उन्हें परिपक्वता दिखानी होगी। ’’

उन्होंने कहा, ‘‘टीम में प्रतिभा मौजूद है, उनके पास इस स्तर पर रन जुटाने और विकेट चटकाने के लिये शानदार खिलाड़ी मौजूद हैं। उन्हें विश्व कप जीतने के लिये मानसिक रूप से अच्छी स्थिति में होना चाहिए। ’’

गांगुली ने कहा कि टीम को सीधे खिताब का लक्ष्य बनाने के बजाय प्रत्येक मैच जीतने पर ध्यान देना चाहिए।

उन्होंने कहा, ‘‘खिताब तभी जीता जा सकता है, जब फाइनल्स खत्म हो जायें। इसलिये इससे पहले आपको काफी क्रिकेट खेलना होगा और मुझे लगता है कि भारत को प्रत्येक मैच पर ध्यान लगाना चाहिए और फिर आगे बढ़ने के बारे में देखना चाहिए, न कि शुरू से ही खिताब के बारे में सोचना चाहिए। ’’

गांगुली ने कहा, ‘‘वे (भारत) हमेशा ही दावेदार होते हैं, वे किसी भी टूर्नामेंट में खेलें और उनके लिये चुनौती शांत बने रहने की है, नतीजों के बजाय प्रक्रिया पर ध्यान लगाओ क्योंकि सबसे मुश्किल चीज और सबसे गलत चीज वही होती है जब आप एहतियात बरतने लगते हो और आप समझते हो कि मैं यहां विश्व कप जीतने के लिये हूं। ’’

उन्होंने कहा, ‘‘महत्वपूर्ण चीज गेंदबाज के हाथों से निकलकर आ रही अगली गेंद को खेलना है और लगातार ऐसा करते रहना है जब तक कि आप फाइनल्स में नहीं पहुंच जाते। ’’

पूर्व भारतीय कप्तान ने आगामी टी20 विश्व कप के लिये इसके फैंटेसी स्पोर्ट्स मंच ‘माई11सर्कल’ पर एक लांच कार्यक्रम के इतर ये बातें कहीं।

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के ट्रेंड को देखते क्या गांगुली को कम स्कोर वाले टी20 विश्व कप की उम्मीद है? तो उन्होंने कहा, ‘‘नहीं, नहीं, मुझे ऐसा नहीं लगता। ’’

उन्होंने कहा, ‘‘शायद शारजाह में विकेट की वजह से ऐसा हो सकता है, लेकिन दुबई में ऐसा नहीं होगा जहां कल आईपीएल फाइनल खेला गया था। ’’

गांगुली ने कहा, ‘‘अबुधाबी बल्लेबाजी के लिये शानदार होगा और यह बेहतरीन विश्व कप होगा। ’’

गांगुली के अनुसार खेल में प्रशंसकों का शामिल होना बढ़ रहा है। उन्होंने कहा, ‘‘इसलिये यह खेल इस देश में इतना लोकप्रिय है, प्रशंसक, लोग इस खेल से इस तरह से जुड़े हुए हैं कि प्रत्येक वर्ष आप देखते हो कि आईपीएल, अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट बेहतर से बेहतर होता जा रहा है। ’’

गांगुली से जब उनके ‘फैनबॉय’ क्षण के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि यह आस्ट्रेलिया के पहले दौरे पर हुआ था।

उन्होंने कहा, ‘‘यह मुश्किल सवाल है। मुझे लगता है जब मैं 1991 में भारतीय टीम के साथ पहली बार आस्ट्रेलिया दौरे पर गया था तो ड्रेसिंग रूम में कुछ महान खिलाड़ी जैसे कपिल देव, सचिन तेंदुलकर और मोहम्मद अजहरूद्दीन थे जो तब भारत के कप्तान थे। ’’

उन्होंने कहा, ‘‘इसलिये मुझे लगता है कि पहला दौरा हमेशा मेरा ‘फैनबॉय’ क्षण रहेगा क्योंकि मैंने इन सभी को देखा था और 1983 विश्व कप के साथ ही खेल से मेरा लगाव बढ़ा था जिसमें कपिल देव ने भारत को पहली बार खिताब दिलाया था। ’’

गांगुली ने कहा, ‘‘इस नजरिये से वो दौरा शायद मेरा पहला ‘फैनबॉय’ पल होगा। ’’

भाषा नमिता मोना

मोना