Thailand Open 2022: पीवी सिंधू ने दी दुनिया की नंबर वन खिलाड़ी अकाने यामागुची को मात, कटाया सेमीफाइनल का टिकट

Thailand Open 2022: PV Sindhu beats Akane Yamaguchi : दो बार की ओलंपिक पदक विजेता पीवी सिंधू ने शुक्रवार को यहां जापान की दुनिया की नंबर एक खिलाड़ी अकाने यामागुची पर तीन गेम में जीत दर्ज कर थाईलैंड ओपन सुपर 500 टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में प्रवेश किया।

Edited By: , May 20, 2022 / 06:39 PM IST

बैंकाक । दो बार की ओलंपिक पदक विजेता पीवी सिंधू ने शुक्रवार को यहां जापान की दुनिया की नंबर एक खिलाड़ी अकाने यामागुची पर तीन गेम में जीत दर्ज कर थाईलैंड ओपन सुपर 500 टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में प्रवेश किया। छठी वरीयता प्राप्त भारतीय ने जापान की दूसरी वरीय खिलाड़ी को 51 मिनट में 21-15 20-22 21-13 से हराया और अब उनका सामना चीन की ओलंपिक चैम्पियन चेन यु फेई से होगा।>>*IBC24 News Channel के WhatsApp  ग्रुप से जुड़ने के लिए Click करें*<<

Read more : कुपवाड़ा में घुसपैठ की कोशिश, सुरक्षाबलों ने एक आंतकी को किया ढेर, सर्च अभियान जारी 

पिछली बार दोनों खिलाड़ियों के बीच हुए मुकाबले में विवाद खड़ा हो गया था जिसमें सिंधू पर बैडमिंटन एशिया चैम्पियनशिप के सेमीफाइनल के दौरान अंपायर ने रणनीति बनाने में देरी के लिये एक अंक का जुर्माना लगाया था। सिंधू का मैच से पहले जीत का रिकॉर्ड 13-9 था और उन्होंने एक और शानदार प्रदर्शन करते हुए मौजूदा विश्व चैम्पियन पर 14वीं जीत हासिल की।

Read more :  आउट होने के बाद मैथ्यू वेड ने की ड्रेसिंग रूम में तोड़फोड़, BCCI ने लगाई फटकार 

शुरू में दोनों खिलाड़ियों के खेल में कोई अंतर नहीं था जिसमें सिंधू अपने क्रास कोर्ट शॉट से यामागुची को मुश्किल में डाल रही थीं जो तीन अंक की बढ़त गंवा बैठी और भारतीय खिलाड़ी ब्रेक तक 11-9 से आगे हो गयी। सिंधू ने फिर लगातार सात अंक जुटाकर इसे 19-14 कर दिया। यामागुची के नेट पर शॉट लगाने से वह इस गेम को अपने नाम करने में सफल रहीं। यामागुची दूसरे गेम में थोड़ी सक्रिय नहीं दिख रही थीं जिसका फायदा उठाते हुए सिधू ने ब्रेक तक 11-5 की बढ़त बना ली जिसमें उन्होंने बिना किसी परेशानी के अंतिम 11 अंक में 10 जीत लिये।

Read more :   राजधानी में फिर आया लव जिहाद का मामला, धर्म छिपाकर महिला डॉक्टर से किया रेप, फिर मुसलमान बनने का बनाया दबाव

ब्रेक के बाद सिंधू को ‘सर्विस फॉल्ट’ मिला और जल्द ही यामागुची ने वापसी करते हुए अच्छे शॉट लगाकर 16-16 की बराबरी हासिल कर ली। तेजी से लगे स्मैश और सटीक रिटर्न से जापानी खिलाड़ी को दो अंक मिले। सिंधू ने दो अंक बचाये लेकिन सर्विस में गलती कर बैठी जिससे मैच निर्णायक गेम तक पहुंच गया। तीसरे गेम में सिंधू ने छह अंक की बढ़त बना ली थी और यामागुची को अपनी पीठ से परेशानी हो रही थी जिससे उनके स्ट्रोकप्ले प्रभावित हो रहे थे। सिंधू ने यामागुची की गलती से 15-11 की बढ़त बना ली। भारतीय खिलाड़ी ने जल्द ही अपने स्मैश और सटीक शॉट से अंक जुटाकर जीत हासिल की।

Read more :  पूर्वी यूक्रेन में रूसी सेना का हमला, 12 की मौत, 60 से अधिक मकान तबाह