विदेश में पढ़ रहे अफसरों-कर्मचारियों के बच्चों को नहीं मिलेगा शिक्षा भत्ता, इस सरकार का बड़ा फैसला

राज्य सरकार के फैसले ने सरकार अफसर और कर्मचारियों की नींद उड़ा दी है। दरअसल सरकार ने फैसला किया है कि विदेश में पढ़ रहे सरकारी अफसरों और कर्मचारियों के बच्चों की फीस सरकार नहीं भरेगी। Children of officers and employees studying abroad will not get education allowance, big decision of this government

Edited By: , July 30, 2021 / 11:06 AM IST

education allowance: चंडीगढ़। राज्य सरकार के फैसले ने सरकार अफसर और कर्मचारियों की नींद उड़ा दी है। दरअसल सरकार ने फैसला किया है कि विदेश में पढ़ रहे सरकारी अफसरों और कर्मचारियों के बच्चों की फीस सरकार नहीं भरेगी।

पढ़ें- इस माह से लेबर कोड हो जाएगा लागू, प्राइवेट जॉब हो या सरकारी, सबको मिलेगा तोहफा! जानिए मोदी सरकार की तैयारी 

education allowance: हरियाणा में सरकारी कर्मचारियों के दो बच्चों को सरकार बारहवीं तक की शिक्षा के लिए हर महीने अधिकतम 1125 रुपये प्रति छात्र प्रदान करती है। वित्त विभाग के पास बड़ी संख्या में ऐसे मामले पहुंचे हैं, जिनमें छात्र विदेश में पढ़ रहा है और उसके अभिभावक फीस के भुगतान के लिए चाइल्ड एजुकेशन अलाउंस के लिए दावा ठोक रहे हैं।

पढ़ें- निजी स्कूलों को फीस में 15 फीसदी करनी होगी कटौती, इस कैबिनेट का अहम फैसला

वित्त सचिव ने इस संंबंध में मुख्य सचिव, सभी प्रशासनिक सचिवों, विभागाध्यक्ष, हाई कोर्ट के रजिस्ट्रार, मंडलायुक्तों, उपायुक्तों और एसडीएम को लिखित आदेश जारी कर दिए हैं।

पढ़ें- सांसद गोमती साय ने केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी से कीं मुलाकात, बदहाल सड़कों की दिखाई तस्वीरें

वित्त विभाग ने साफ किया है कि 20 जून 2018 को जारी आदेशाें के मुताबिक देश से बाहर पढ़ रहे बच्चों के लिए शिक्षा भत्ते का कोई प्रविधान नहीं है। इसलिए उन्हें शिक्षा भत्ता नहीं दिया जा सकता।

पढ़ें- पढ़ें- tokyo olympic: लवलीना का जोरदार ‘पंच’.. भारत का एक और मेडल पक्का, सेमीफाइनल में एंट्री

जिन कर्मचारियों के बच्चे स्वदेश में पढ़ रहे हैं, वह स्व हस्ताक्षरित शपथपत्र देकर शिक्षा भत्ते के लिए आवेदन कर सकते हैं।