पिता ने अपनी ही तीन बेटियों को जिंदा जलाकर उतारा मौत के घाट, कोर्ट ने आरोपी को सुनाई मौत की सजा

एक विशेष अदालत ने तीन बेटियों की हत्या के जुर्म में उनके पिता को मौत की सजा सुनाई है

Edited By: , November 13, 2021 / 10:47 AM IST

ललितपुर (उप्र),  उत्तर प्रदेश में ललितपुर की एक विशेष अदालत ने तीन बेटियों की हत्या के जुर्म में उनके पिता को मौत की सजा सुनाई है। ललितपुर जिले के सहायक शासकीय अधिवक्ता राकेश तिवारी ने शनिवार को बताया कि अपर जिला एवं सत्र न्यायालय के विशेष न्यायाधीश निर्भय प्रकाश ने अभियोजन और बचाव पक्ष के अधिवक्ताओं की दलीलें सुनने के बाद 13 नवंबर 2018 की रात घर में सो रही अपनी तीन नाबालिग बेटियों को हथौड़े मारकर घायल करने और उन्हें जिंदा जला देने के मामले में दोषी पाए गए छिदामी उर्फ छिद्दू (35) को शुक्रवार को मौत की सजा सुनाई और उस पर एक लाख रुपये का जुर्माना लगाया।

यह भी पढ़ें :  7 साल बाद भी पूरा नहीं हो पाया इस नेशनल हाइवे का काम, अब तक चार बार बढ़ चुकी है मियाद

उन्होंने घटना की पृष्ठभूमि के बारे में बताया कि बानपुर थाना क्षेत्र के वीर गांव के रहने वाले छिदामी उर्फ छिद्दू (35) ने शराब के नशे में 13 नवंबर 2018 की रात घर में सो रही अपनी तीनों पुत्रियों के सिर पर हथौड़े से वार किए थे, इसके बाद रसोई गैस से घर में आग भी लगा दी थी,जिसमें तीनों बेटियां बुरी तरह झुलस गईं थीं।

यह भी पढ़ें :  राजभवन ने राज्य सरकार को सौंपी जीरम मामले की जांच रिपोर्ट, दिल्ली दौरे से लौटे सीएम भूपेश ने दी जानकारी 

तिवारी ने बताया कि घटना की जानकारी होने पर गांव के लोग तीनों बच्चियों को इलाज के लिए अस्पताल ले गए, जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया था। इस मामले में ग्रामीण पूरन सिंह ने छिदामी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करवाई थी। घटना के समय छिदामी की पत्नी अपने मायके में थी।

यह भी पढ़ें : नगरीय निकाय चुनाव की तैयारियों को लेकर निर्वाचन आयुक्त ने ली बैठक, बलौदाबाजार जिले के उप निर्वाचन अधिकारी को नोटिस जारी करने के दिए निर्देश