125 people died in stadium during match

नहीं खुला स्टेडियम का दरवाजा, मची चीख-पुकार, 125 लोगों की दर्दनाक मौत

125 people died in stadium during match: नहीं खुला स्टेडियम का दरवाजा, मची चीख-पुकार, 125 लोगों की दर्दनाक मौत....

Edited By: , November 29, 2022 / 08:55 PM IST

नई दिल्ली। 125 people died in stadium : इंडोनेशिया के फुटबॉल मैच में 125 लोगों की मौत की खबर सुनकर हर कोई हैरान रह गया। सब सोच में पड़ गए की आखिर मैच के मैदान में ऐसा क्या हुआ की सवा सौ लोगों की मौत हो गई? आखिर इतनी मौतें हुई कैसे? इस दर्दनाक घटना का वीडियो इंटरनेट पर तेजी से वायरल हो रहा है। इस वीडियो को देखकर दुनिया भर के लोग हैरत में पड़ गए हैं। फुटबॉल स्टेडियम का वीडियो दुनिया भर की पुलिस के लिए एक सबक है कि अगर बंद एरिया में पुलिस आंसू गैस का इस्तेमाल करती है तो इसका अंजाम कितना भयानक हो सकता है।>>*IBC24 News Channel के WHATSAPP  ग्रुप से जुड़ने के लिए  यहां CLICK करें*<<

Read More : Adipurush Teaser: रिलीज होते ही ट्रोल होने लगा टीजर, लोगों ने VFX का उड़ाया मजाक, बताया कार्टून

दरअसल, इंडोनेशिया के पूर्वी जावा क्षेत्र के मलंग में चल रहे फुटबॉल मैच में कुछ ऐसा हुआ जिसे देखकर सबके होश उड़ गए। एक रिपोर्ट के अनुसार कांजुरुहान स्टेडियम में रात को हो रहा मैच पहले ठीक-ठाक चल रहा था। दो लोकल टीमें Arema FC और Persebaya Surabaya स्टेडियम में मैच खले रही थी। फुटबॉल के लिए दीवानगी रखने वाले इंडोनेशिया में मैच देखने के लिए स्टेडियम फुल था। बता दें एक रिपोर्ट में बताया गया है कि इस स्टेडियम की क्षमता 38 हजार की थी, लेकिन इस मैच को देखने के लिए यहां 42 हजार से ज्यादा लोग मौजूद थे।

Read More : Dashahara Bonus 2022: दशहरे से पहले खाते में आ जाएगा बोनस, मिलेगी इतनी मोटी रकम

अचानक अराजक हो गई भीड़

एक स्थानीय मीडिया रिपोर्ट में एक स्थानीय पुलिस चीफ Afinta ने कहा कि स्थिति तब बिगड़ी जब मैच खत्म होने की सिटी बज गई। इंडोनेशिया प्रीमियर लीग के इस मैच में Persebaya ने Arema FC को 3-2 से मात दे दी थी। इस के बाद Arema FC के फैंस का गुस्सा भड़क उठा। Arema के फैंस मैदान में आ गए और हंगामा करने लगे। इस दौरान खिलाड़ी डर गए और वे एक कोने में जाकर छिप गए। पहले तो उनकी नाराजगी Arema FC टीम के खिलाड़ियों से थी। पुलिस चीफ ने कहा, “पुलिस अधिकारियों ने Arema FC के फैंस को स्टैंड पर लौटने के लिए मनाने की कोशिश की, लेकिन उन्होंने नजरअंदाज कर दिया। हम नहीं जानते कि भीड़ अराजक क्यों हो गई, और अंत में पुलिस पर भी हमला किया। इसके बाद पुलिस ने भीड़ पर आंसू गैस के गोले दागे।”

Read More : Navratri 2022: राशि के अनुसार माता को अर्पित करें ये चीज, चमक उठेगी किस्मत, होगी हर मनोकामना पूरी

जान बचाने गेट की तरफ भागे लोग

देखते ही देखते अचानक स्टेडियम में भगदड़ मच गई। पुलिस ने आंसू गैस छोड़े। पुलिस के आंसू गैस छोड़ते ही लोग इधर-उधर भागने लगे। इस दौरान स्टेडियम के किनारे बैठे लोगों को समझ नहीं आया की अंदर क्या चल रहा है। इसी दौरान आंसू गैस से बचने के लिए दोनों ही टीमों के हजारों समर्थक स्टेडियम के गेट की ओर भागे, लेकिन इस वक्त तक स्टेडियम का दरवाजा ही नहीं खुला था।

Read More : अमित शाह के दौरे से पहले आतंकियों ने किया हमला, CRPF का जवान घायल, SPO शहीद

एक दूसरे को कुचलने लगे लोग

जान बचाने के लिए लोग इधर-उधर भागने लगे। इस दैरान लोगों को ये भी होश नहीं आया कि वो अपने पैरों के नीचे किसी इंसान को कुचलते हुए आगे बढ़ रहे हैं। भीड़ बेकाबू हो गई। जिसके बाद लोगएक-दूसरे को कुचलते हुए भागने लगे। स्टेडियम के गेट के पास लोग एक दूसरे पर चढ़कर भागने लगे। पूरे स्टेडियम में लोगों की चीख-पुकार मच गई। स्टेडियम के हर कोने में पर्याप्त रोशनी नहीं थी जिसके कारण स्थिति और भी बिगड़ गई। कुछ घंटों के बाद जब हालात संभले तब तक 125 लोगों की दर्दनाक मौत हो चुकी थी और लगभग 125-150 लोग घायल हो गए।

Read more: IBC24 की अन्य बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

 

Web Design Jan 2023 2