This Indian aircraft is on top of Malaysia's top fighter jet choice list,

मलेशिया के टॉप फाइटर जेट पसंद लिस्ट में ये भारतीय विमान है शीर्ष पर, जल्द हो सकती है डील फाइनल…

This Indian aircraft is on top of Malaysia's top fighter jet choice list, deal may be final soon.मलेशिया के फाइटर जेट प्रोग्राम के लिए आयोजित प्रतियोगिता में चीन का JF-17, दक्षिण कोरिया का FA-50 और रूस का Mig-35 और Yak-130 प्लेन शामिल थे। तेजस ने इन सबको पछाड़कर पहला स्थान हासिल किया है।

Edited By: , July 3, 2022 / 10:23 PM IST

नई दिल्ली: भारत में बने स्वदेशी हल्के लड़ाकू विमान तेजस (Tejas Light Combat Aircraft) को दक्षिण-एशियाई देश मलेशिया के फाइटर जेट प्रोग्राम के लिए चुना गया है। भारत और मलेशिया के बीच इस फाइटर जेट की डील को लेकर बातचीत जारी है। मलेशिया के फाइटर जेट प्रोग्राम के लिए आयोजित प्रतियोगिता में चीन का JF-17, दक्षिण कोरिया का FA-50 और रूस का Mig-35 और Yak-130 प्लेन शामिल थे। तेजस ने इन सबको पछाड़कर पहला स्थान हासिल किया है।

Read More: रिलाएंस निवेशको का एक झटके में करोड़ों साफ, BSE की केवल ये कम्पनियां है फायदे में

दरअसल, दक्षिण पूर्व एशियाई देश अपने पुराने लड़ाकू विमानों के बेड़े को बदलने की सोच रहा है। ऐसे में भारत का तेजस हल्का लड़ाकू विमान मलेशिया के लिए टॉप पसंद के रूप में उभरा है। जिसके बाद दोनों देश इस डील पर बातचीत कर रहे हैं। हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (HAL) के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक आर माधवन ने बताया कि चीन के JF-17 जेट, दक्षिण कोरिया के FA-50 और रूस के मिग-35 के साथ-साथ याक-130 से कड़ी प्रतिस्पर्धा के बावजूद मलेशिया ने भारतीय विमानों को चुना है।

Read More: आदित्य ठाकरे समेत16 विधायक होंगे अयोग्य ? शिंदे ग्रुप ने नए अध्यक्ष को लिखा पत्र

भारत ने दिया MRO का ऑफर:
 इस डील के तहत भारत मलेशिया को MRO (मेंटेनेंस, रिपेयर और ओवरहॉल) का ऑफर भी दे रहा है। जिसके तहत मलेशिया में ही एक फैसिलिटी बनाई जाएगी जहां भारतीय इंजीनियर तेजस समेत रूसी सुखोई Su-30 फाइटर जेट की भी मरम्मत करेंगे। दरअसल, यूक्रेन-रूस युद्ध की वजह से रूस के अंतरराष्ट्रीय डील पर लगे प्रतिबंध की वजह से मलेशिया अभी रूस से मदद नहीं ले सकता है।

 

#HarGharTiranga