Ratan Tata announces investment in startup Goodfellows

रतन टाटा ने 25 साल के युवा के स्टार्टअप पर लगाया बड़ा दांव, जानें इस कंपनी की खासियत

Ratan Tata: रतन टाटा हमेशा साहसिक और व्यावसायिक कदमों के लिए जाने जाते हैं। उनके हर प्रयास की पूरे देश में सराहना की जाती है।

Edited By: , August 16, 2022 / 07:28 PM IST

Ratan Tata: रतन टाटा हमेशा साहसिक और व्यावसायिक कदमों के लिए जाने जाते हैं। उनके हर प्रयास की पूरे देश में सराहना की जाती है। रतन टाटा ने वरिष्ठ नागरिकों को सेवा के रूप में सहयोग देने वाले स्टार्टअप गुडफेलोज में निवेश की घोषणा की है। हालांकि, निवेश की रकम के बारे में जानकारी नहीं दी गई है। बता दें कि टाटा समूह से रिटायरमेंट के बाद से रतन टाटा, कई स्टार्टअप में पैसे लगा चुके हैं।

यह भी पढ़ेंः  प्रदेश में यहां बच्चे सहित टीले पर फंसे 18 लोग, रेस्क्यू करने जुटी टीम

यह स्टार्टअप वरिष्ठ नागरिक ग्राहकों के साथी के रूप में ‘काम’ करने के लिए युवा स्नातकों को काम पर रखता है। कंपनी मुंबई में अपने बीटा चरण में पिछले छह महीनों से 20 बुजुर्गों के साथ काम कर रही है और आगे पुणे, चेन्नई और बेंगलुरु में सेवाएं देने की योजना बना रही है।

यह भी पढ़ेंः चोरी चुपके प्रेमिका का गर्भपात कर रहा था प्रेमी, हो गई मौत, प्रेमी गिरफ्तार डॉक्टर फरार

कौन है फाउंडर

अब रतन टाटा ने जिस नए स्टार्टअप में निवेश का ऐलान किया है, उसकी स्थापना शांतनु नायडू ने की है। कॉर्नेल विश्वविद्यालय से पढ़ाई करने वाले 25 वर्षीय नायडू टाटा के कार्यालय में हैं और 2018 से टाटा की सहायता कर रहे हैं। 84 वर्षीय रतन टाटा ने स्टार्टअप की तारीफ की और कहा कि जब तक आप वास्तव में बूढ़े नहीं हो जाते, तब तक किसी को भी बूढ़े होने का मन नहीं करता। उन्होंने यह भी कहा कि एक अच्छे स्वभाव वाला साथी हासिल करना भी एक चुनौती है।

यह भी पढ़ेंः बेटी को जन्म देने के चार महीने बाद दुबारा प्रेग्नेंट हुई ये अभिनेत्री, सोशल मीडिया पर फोटो शेयर कर की अनाउंसमेंट

और भी है बड़ी खबरें…