CM पर ‘FIR’.. कठघरे में कार्रवाई! उत्तर प्रदेश में मामला दर्ज…छत्तीसगढ़ में गरमाई सियासत, भाजपा और कांग्रेस आमने-सामने

Politics heats up in Chhattisgarh over action on CM Bhupesh

: , January 18, 2022 / 12:00 AM IST

रायपुरः Politics heats up in Chhattisgarh  यूपी में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पर FIR का मामला अब सियासी मुद्दा बनता जा रहा है। कार्रवाई को लेकर बीजेपी और कांग्रेस आमने-सामने हैं। वार-पलटवार हो रहे हैं। कांग्रेस जहां इसे योगी सरकार की बौखलाहट बता रही है तो दूसरी ओर बीजेपी का कहना है कि कानून से बड़ा कोई नहीं। पूरे प्रकरण में सीएम भूपेश बघेल की प्रतिक्रिया भी सामने आई। उन्होंने निर्वाचन आयोग की निष्पक्षता पर सवाल उठाते हुए कहा कि अगर मुझपर कार्रवाई हुई तो अमरोहा में बीजेपी के मंत्री भी 5 दिन से डोर टू डोर प्रचार कर रहे हैं। उनके खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं हुई?

Read more : क्या बुमराह के पास आएगी टीम इंडिया की कमान? गेंदबाज बोले- अगर मिली कप्तानी तो मेरे लिए सम्मान की बात   

Politics heats up in Chhattisgarh  : NSUI कार्यकर्ताओँ के विरोध प्रदर्शन की ये तस्वीरें मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के खिलाफ यूपी के नोएडा में FIR के बाद की है। कांग्रेस की युवा विंग ने कार्रवाई को गलत बताते हुए यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ का पुतला भी फूंका तो दूसरी ओर मामले में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने निर्वाचन आयोग को घेरते हुए एक के बाद एक कई सवाल दागे।

Read more : टेक होम सिस्टम से होगी 10वीं-12वीं प्री बोर्ड परीक्षा, 1 दिन पहले घर ले जाना होगा प्रश्नपत्र और उत्तर पुस्तिका, शिक्षा विभाग ने जारी की गाइडलाइन 

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल यहीं नहीं रूके, मीडिया के सामने उन्होंने कहा कि आखिर बिना मिले चुनाव प्रचार कैसे होगा। अगर ऐसा है तो चुनाव आयोग को आकर बताना चाहिए कि इस प्रकार से होगा प्रचार वे डेमो करके बता दें फिर हम लोग वैसे ही करेंगे।

Read more : JIO ग्राहकों के लिए खुशखबरी! आ गया धांसू प्लान, महज इतने रुपए में मिलेगा रोजाना 2.5GB डेटा  

दरअसल शनिवार को नोएडा में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल कांग्रेस प्रत्याशी के समर्थन में डोर टू डोर प्रचार कर रहे थे। जहां गौतम बुद्ध नगर जिला प्रशासन ने उनके खिलाफ महामारी कानून के उल्लंघन के लिए FIR दर्ज किया। जिसके बाद छत्तीसगढ़ में भी मामला लगातार तूल पकड़ रहा है। कांग्रेस जहां इसे योगी सरकार की बौखलाहट बता रही है तो वहीं बीजेपी नेता मुख्यमंत्री के खिलाफ FIR को जायज ठहरा रहे हैं।

Read more : छत्तीसगढ़ः इस सरकारी स्कूल में फूटा कोरोना बम, 13 छात्र सहित 19 लोग मिले संक्रमित, इधर BSF कैंप के 35 जवानों की रिपोर्ट भी आई पॉजिटिव 

उत्तरप्रदेश में हो रहे विधानसभा चुनाव के हर सियासी घटनाक्रम का असर छत्तीसगढ़ में भी दिखाई दे रहा है, क्योंकि यहां के मुख्यमंत्री वहां के कांग्रेस के सीनियर ऑब्जर्वर हैं। जाहिर है आने वाले दिनों में जैसे-जैसे चुनावी रंग चढ़ेंगे, राजनीति भी गरमाएगी।