Road safety message given to youth after son's death

सड़क सुरक्षा का संदेश: बेटे की हो गई थी रोड एक्सीडेंट में दर्दनाक मौत, तेरहवीं पर परिवार ने 21 युवाओं को बांटे हेलमेट

DSP told that the reason for Chandrashekhar's death was not wearing a helmet, but now we have a big lesson in front of us that all of us must compulsorily use helmets while traveling in a two-wheeler.

Edited By: , January 25, 2023 / 11:47 AM IST

दर्दनाक रोड एक्सीडेंट में बेटे के मौत से गमगीन परिवार ने सड़क सुरक्षा को लेकर जो कदम उठाया है उसकी चारो तरफ प्रशंसा हो रही हैं। परिवार का कहना हैं की जिस तरह से एक लापरवाही के चलते उनके घर का चिराग हमेशा के लिए बुझ गया, किसी और परिवार को यह दिन देखना ना पड़े और फिर रुंधे गले से कार्यक्रम में 21 युवाओं को हेलमेट सौंपा गया। सभी से यह अपील भी की गई की जब कभी वो बाइक लेकर घर से बाहर निकले तो हेलमेट अवश्य लगाएं, यह आदत उस त्रासदी को आने से रोकेगा जिसकी चपेट में आज खुद उसका परिवार आ गया हैं।

Read more : भारत ने पाकिस्तान को दिया न्यौता, विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने खुद भेजा हैं यह आमंत्रण, जाने इसके पीछे की वज़ह

पूरा मामला मध्यप्रदेश के भोपाल के नर्मदापुरम का हैं। यहाँ इसी महीने के 8-9 तारीख़ को 22 साल के एक युवा चंद्रशेखर मेहर दर्दनाक सड़क हादसे का शिकार हो गया था। उसकी तेज रफ्तार बाइक डिवाइडर से जा टकराई थी। इस हादसे में चंद्रशेखर ने दम तोड़ दिया था। पोस्टमार्टम में यह बात सामने आई थी की चंद्रशेखर के सिर पर गहरी चोट लगी थी। टक्कर के दौरान अगर चंद्रशेखर ने हेलमेट पहना होता तो वह सुरक्षित रहता और उसकी मौत नहीं होती।

Read more : प्रदेश की सबसे बड़ी अक्षय पात्र रसोई का सीएम शिवराज ने किया शुभारंभ, करीब 50 हज़ार बच्चों को मिलेगा मध्याह्न भोजन

इसके बाद जब चंद्रशेखर का अंतिम संस्कार हुआ तो तेरहवीं कार्यक्रम में पहुंचे 21 युवाओं को मृतक चंद्रशेखर के परिजनों की तरफ से उन्हें हेलमेट सौंपा गया। उनसे यह संकल्प भी कराया गया की वे जब कभी बाइक की सवारी करेंगे तब हेलमेट जरूर पहनेंगे। इस मौके पर शहर यातायात के डीएसपी भी मौजूद थे। उन्होंने परिवार के इस जनजागरूकता और सड़क सुरक्षा से कदम की भरपूर सराहना की।

Read more : इस बार सीएम शिवराज इस शहर में मनाएंगे गणतंत्र दिवस, यहां देखें पूरा कार्यक्रम

डीएसपी ने बताया की चंद्रशेखर की मौत की वज़ह हेलमेट का नहीं पहनना था लेकिन अब हमारे सामने एक बड़ा सबक हैं की दोपहिया वाहन में सफर के दौरान हम सभी हेलमेट का अनिवार्य तौर पर इस्तेमाल करें। डीएसपी ने बताया की पुलिस का उद्देश्य चालान काटना नहीं होता बल्कि बाइक चालकों को सड़क सुरक्षा और वाहन चालकों को उनकी सुरक्षित जिंदगी के लिए जागरूक करना होता हैं।

Read more : सर्जिकल स्ट्राइक के बाद भारत पर परमाणु हमला करने वाला था पाकिस्तान, पूर्व विदेश मंत्री का बड़ा खुलासा