दशहरे की खुशियों पर पानी फेर सकती है बारिश, इन जिलों में मूसलाधार बारिश की चेतावनी

दशहरे की खुशियों पर पानी फेर सकती है बारिश! Rain spoil the happiness of Dussehra, IMD Issues Alert for Heavy Rain in 16 District

Edited By: , October 14, 2021 / 04:52 PM IST

नई दिल्ली: महानवमी और विजय दशमी को दुर्गा पूजा के उत्साह में कुछ कमी आ सकती है क्योंकि मौसम विभाग ने इन दो दिनों में दक्षिण पश्चिम बंगाल में बारिश होने या गरज के साथ छींटे पड़ने का अनुमान व्यक्त किया है। मौसम वैज्ञानिकों ने कहा है कि बारिश की तीव्रता शनिवार से बढ़ने की संभावना है। कोलकाता के दुर्गा पूजा पंडालों में नए कपड़े पहनकर आए लोग बुधवार की रात बारिश के चलते परेशान दिखे। कोविड-19 दिशानिर्देशों के अनुसार आगंतुकों के प्रवेश पर प्रतिबंध के साथ, कई लोगों को कहीं आश्रय नहीं मिला और लगभग 30 मिनट तक हुई बारिश में वे भीग गए।

Read More: जेठालाल के प्यार से इस कारण अनजान है बबीता जी, सोशल मीडिया में आई तस्वीर से हुआ खुलासा

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के अनुसार, कोलकाता में 10.7 मिलीमीटर बारिश जबकि शहर की उत्तरी सीमा पर स्थित दमदम में 23.4 मिमी बारिश हुई। मौसम वैज्ञानिकों ने 19 अक्टूबर की सुबह तक दक्षिण बंगाल के सभी जिलों में ‘हल्की से मध्यम बारिश’ का अनुमान व्यक्त किया है जो कुछ स्थानों पर बाद में बढ़ सकती है। कोलकाता में बृहस्पतिवार (महा नवमी) और शुक्रवार (विजय दशमी) को बिजली चमकने के साथ ही गरज के साथ छींटे पड़ सकते हैं। मौसम वैज्ञानिकों ने दक्षिण और उत्तर 24 परगना और पूरब और पश्चिम मेदिनीपुर जिलों में 17 अक्टूबर से 30 से 40 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चलने वाली तेज हवा के साथ भारी बारिश होने की संभावना जाहिर की है।

Read More: UPPSC Recruitment 2021: लोक सेवा आयोग में निकली बंपर भर्ती, जल्द करें आवदेन, कल अंतिम दिन

केरल में भारी बारिश की चेतावनी
केरल के विभिन्न हिस्सों में बृहस्पतिवार को भी भारी बारिश हुई, जिसके चलते मौसम वैज्ञानिकों ने राज्य के छह उत्तरी जिलों के लिए ‘ऑरेंज अलर्ट’ जारी किया है। इससे संकेत मिलता है कि इन जिलों में मूसलाधार बारिश हो सकती है।

Read More: प्लेन के अंदर ‘लोकल ट्रेन’ जैसा नजारा, महिला ने किया ऐसा काम.. ताली पीटने लगे पैसेंजर

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के मुताबिक पलक्कड, कोझिकोड, कन्नूर, मलाप्पुरम, वायनाड और कासरगोड जिले के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है जबकि अलप्पुझा, कोट्टयम, एर्णाकुलम, इडुकी और त्रिशूर जिलों में ‘येलो अलर्ट’ जारी किया गया है। मौसम विभाग ने बताया कि अरब सागर में लक्षद्वीप के पास बने हवा के कम दबाव के क्षेत्र की वजह से अगले तीन दिन तक केरल के विभिन्न हिस्सों में भारी बारिश होने की संभावना है। इस बीच, राजधानी तिरुवनंतपुरम में भारी बारिश की वजह से राज्य के सिचांई विभाग के नियंत्रण वाले नय्यर बांध के चार फाटकों को बृहस्पतिवार को कुल 160 सेंटीमीटर ऊपर उठा दिया गया। जिलाधिकारी ने बृहस्पतिवार को एक बयान में बताया कि इन फाटकों को पहले ही कुल 120 सेंटीमीटर (प्रत्येक को 30 सेंमी) ऊपर उठाया गया था।

Read More: गलत खाते में हो गए पैसे ट्रांसफर? तो घबराएं नहीं- ऐसे होंगे वापस.. देखिए पूरा प्रोसेस