ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह का इलाज जारी.. हेलीकॉप्टर हादसे के हैं इकलौते सर्वाइवर

Treatment of Group Captain Varun Singh continues .. the only survivor of the helicopter accident

Edited By: , December 9, 2021 / 11:38 AM IST

नई दिल्ली। तमिलनाडु के कुन्नूर में दोपहर हेलीकॉप्टर हादसे में  चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत उनकी पत्नी मधुलिका सहित 13 लोगों का निधन हो गया। जबकि हादसे में इकलौते सर्वाइवर रहे ग्रपु कैप्टन वरुण सिंह को वेलिंगटन के मिलिट्री हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। सेना के इस हेलिकॉप्टर पर कुल 14 लोग सवार थे।

*IBC24 के WhatsApp  ग्रुप से जुड़ने 🤝🏻 के लिए Click करें*

पढ़ें- नहीं रहे CDS बिपिन रावत..पत्नी मधुलिका सहित 13 लोगों का निधन, सीएम बघेल बोले- बेहद मुश्किल और दुखद समय

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और गृहमंत्री अमित शाह ने इस हादसे को लेकर गहरा दुख व्यक्त किया है। वहीं, केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह गुरुवार को संसद में हादसे को लेकर बयान जारी करेंगे।

पढ़ें- तेजस्वी यादव की शादी पक्की.. दिल्ली में कल सगाई.. लालू परिवार में आएगी किश्चियन दुल्हन

गृह मंत्री अमित शाह ने ट्वीट कर बिपिन रावत सहित 13 लोगों को श्रद्धांजलि दी है। उन्होंने आगे लिखा है..

देश के लिए आज का दिन बहुत ही दुखद है, क्योंकि हमने अपने सीडीएस जनरल बिपिन रावत जी को एक बहुत ही दुखद दुर्घटना में खो दिया है। वह सबसे बहादुर सैनिकों में से एक थे, जिन्होंने अत्यंत समर्पण के साथ मातृभूमि की सेवा की है। उनके अनुकरणीय योगदान और प्रतिबद्धता को शब्दों में बयां नहीं किया जा सकता है। उनके निधन से मुझे गहरा दुख पहुंचा है। मैं श्रीमती मधुलिका रावत और 11 अन्य सशस्त्र बलों के जवानों के दुखद निधन पर भी गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं। मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं। ईश्वर उन्हें इस दुखद क्षति को सहने की शक्ति प्रदान करें।

पढ़ें- RBI रिटेल डायरेक्ट स्कीम और एकीकृत लोकपाल योजना, निवेश की प्रक्रिया और होगी आसान.. आम लोग ऐसे उठा सकेंगे फायदा 

अपने ट्वीट में देश के गृहमंत्री ने ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना। बता दें कि 14 हेलिकॉप्टर सवारों में से सिर्फ वरुण सिंह ही इकलौते सर्वाइवर हैं जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

पढ़ें- सरकारी नौकरियों के लिए स्थानीय लोगों को मिले प्राथमिकता, स्थानीय भाषा का ज्ञान होना जरूरी.. यहां की सीएम ने कही ये बात