factory worker's painful end

फैक्ट्री कर्मी का दर्दनाक अंत : कोमा का सामना कर डरा नहीं, पत्नी के झगड़ों ने मरने पर मजबूर किया

Edited By: , July 2, 2022 / 07:06 PM IST

(factory worker death )मध्यप्रदेश: जबलपुर के सिवनी टोला के गांव में रहने वाला गौरव तिवारी उम्र 32 साल ने तिलवारा ब्रिज से कूंदकर आत्महत्या कर ली। इसके पीछे की कहानी बड़ी दर्दनाक है। पुलिस को आत्महत्या के मामले की जब जानकारी हाथ लगी है तब पता चला कि गौरव तिवारी पत्नी के झगड़े और पारिवारिक कलह के साथ अपने काम को लेकर बेहद तनाव में था। गौरव तिवारी कोमा जैसी बीमारी से लड़कर जीतने के बाद अचानक जीवन से मोह भंग हो गया और इतना बड़ा कदम बिना सोचे समझे उठा लिया।>>*IBC24 News Channel के WhatsApp  ग्रुप से जुड़ने के लिए  यहां Click करें*<<

यह भी देखें- दो साल पहले पति की हत्या कर प्रेमी के साथ भाग आई थी महिला, अब प्रेमी ने उतार दिया मौत के घाट.

पुलिस ने दी मामले की जानकारी

पुलिस ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि तिलवारा  के तरी घाट में रात में गौरव तिवारी पिता संतोष तिवारी निवासी सिवनी टोला का शव लोगों ने बहते हुए देखा। जिसके बाद नाविकों और परिजनों की मदद से शव का रेस्क्यू करए पीएम हेतु भिजवाते हुए मर्ग कायम कर मामला जांच में लिया है।

यह भी देखें-दो साल पहले पति की हत्या कर प्रेमी के साथ भाग आई थी महिला, अब प्रेमी ने उतार दिया मौत के घाट.

 

27 जून से था गायब

पुलिस ने बताया कि मृतक गौरव तिवारी 27 जून को बगैर बताए घर से गायब हो गया था। जिसकी सूचना परिजनों ने थाने में दी थी। उसी दौरान पतासाजी पर ज्ञात हुआ कि तिलवारा के छोटे पुल के पास उसकी स्कूटी खड़ी मिली थी।

यह भी देखें-दो साल पहले पति की हत्या कर प्रेमी के साथ भाग आई थी महिला, अब प्रेमी ने उतार दिया मौत के घाट.

पांच दिन से रेस्क्यू में जुटी रही पुलिस फोर्स
युवक के गायब होने और छोटे पुल पर खड़ी मिली स्कूटी के बाद कयास लगाए जा रहे थे कि युवक तिल वारा में कूंदा है। लेकिन ठोस प्रमाण नहीं थेए रात में लेागों ने एक शव तरी घाट में बहते हुए देखा तब मामले का खुलासा हुआ।

यह भी देखें-दो साल पहले पति की हत्या कर प्रेमी के साथ भाग आई थी महिला, अब प्रेमी ने उतार दिया मौत के घाट.

नहीं रहना चाहता था पत्नि के साथ
पुलिस ने बताया कि पड़ताल के दौरान ज्ञात हुआ है कि गौरव तिवारी अपनी पत्नी से छुटकारा चाहता था। उसकी शादी को करीब दस बर्ष बीत चुके थे। मृतक की एक आठ वर्षीय बेटी भी है। घरेलु झगड़े और तानों से तंग आकर युवक डिप्रेशन में चला गया था।

यह भी देखें-दो साल पहले पति की हत्या कर प्रेमी के साथ भाग आई थी महिला, अब प्रेमी ने उतार दिया मौत के घाट.

हो गया था बेरोजगार
गौरव तिवारी पेशे से फैक्ट्री कर्मचारी थाए लेकिन एक्सीडेंट होने के बाद युवक कोमा में थाए जिसके बाद उसकी नौकरी चली गयी थी। जब कोमा से लौटा तो वह बेरोजगार हो चुका था। जिसके चलते भी वह अक्सर तनाव में रहता था। फिलहाल पुलिस को कोई सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ है। पूरे मामले की पुलिस बारीकी से पड़ताल करने में जुटी है।

 

#HarGharTiranga