today Will read the will of Shankaracharya Saraswati

देश भर के साधु संत की आज होगी सम-आराधना सभा, पढ़ी जाएगी शंकराचार्य सरस्वती की वसीयत

देश भर के साधु संत की आज होगी सम-आराधना सभा, पढ़ी जाएगी शंकराचार्य सरस्वती की वसीयत today Will read the will of Shankaracharya Saraswati

Edited By: , September 23, 2022 / 08:04 AM IST

Shankaracharya Saraswati: नरसिंहपुर। ज्योतिष व द्वारिकाशारदापीठ के शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती की आज झोतेश्वर स्थित परमहंसी आश्रम में सम-आराधना सभा आयोजित की गई है। देश भर से साधु संत और जनप्रतिनिधि आश्रम पहुंच ब्रम्हलीन शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती को श्रद्धांजलि अर्पित करेंगे। सम आराधना सभा के बाद धर्म सभा में आज शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती की वसीयत पढ़ी जाएगी। नव नियुक्त शंकराचार्यों के पट्टाभिषेक की तिथि भी तय की जाएगी।

Read more: माता के इस प्रसिद्ध मंदिर में मिटते हैं सारे दुख-दर्द, हर किसी की मुराद होती है पूरी, जानें क्या है ख़ास 

Shankaracharya Saraswati: बता दें कि ज्योतिष व द्वारिकाशारदापीठ के शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती का कुछ दिन पहले 99 वर्ष की आयु में निधन हो गया। इनके बाद नव नियुक्त ज्योतिष पीठ के नए शंकराचार्य स्वामी अविमुक्तेश्वरानंद के साथ वहीं शारदा पीठ के नए शंकराचार्य स्वामी सदानन्द सरस्वती बनाए गए हैं।

Read more: वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सीएम ने ग्रामीण अर्थव्यवस्था पर दिया जोर, कही ये बड़ी बात…. 

Shankaracharya Saraswati: दरअसल शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती लंबे समय से बीमार चल रहे थे और वह अपनी तपस्थली गोटेगांव तहसील के ग्राम झौंतेश्वर स्थित परमहंसी गंगा आश्रम में ही प्रवासरत थे, जहां उन्होंने अपने शिष्यों के साथ चातुर्मास किया था और हरितालिका पर्व पर उनका 99वां जन्मोत्सव धूमधाम से मनाया गया था। आश्रम प्रबंधन के अनुसार शंकराचार्य के निधन के बाद समाधि कार्यक्रम परमहंसी गंगा आश्रम में किया गया। शंकराचार्य के निधन की खबर से संपूर्ण क्षेत्र में शोक का माहौल अब भी बना हुआ है। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने भी उनके निधन पर शोक व्‍यक्‍त किया था।

और भी है बड़ी खबरें…