महिला पर हाथ उठाने वाले पुरुष का तोड़ दूंगी हाथ, इस मामले में सांसद सुप्रिया सुले ने कही ये बात

MP Supriya sule statement : जब राकांपा कार्यकर्ताओं ने केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के पुणे दौरे के दौरान एलपीजी सिलेंडर की कीमतों में वृद्धि पर एक ज्ञापन देने की कोशिश की।

Edited By: , May 18, 2022 / 06:43 AM IST

मुंबई। MP Supriya sule statement  :  राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) सांसद सुप्रिया सुले ने मंगलवार को कहा कि वह महाराष्ट्र में किसी भी महिला पर हमला करने के लिए हाथ उठाने वाले पुरुष का ‘‘हाथ तोड़ देंगी’’।

सुले बारामती से सांसद हैं। उन्होंने पुणे में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) कार्यकर्ताओं द्वारा उनकी पार्टी की एक महिला कार्यकर्ता पर कथित रूप से हमला किए जाने के एक दिन बाद जलगांव में यह बात कही।

यह भी पढ़ें: छत्तीसगढ़ः मालिक से दगाबाजी कर फूर्र हुआ तोता, शख्स ने पुलिस से लगाई मदद की गुहार

MP Supriya sule statement :  यह कथित घटना सोमवार को हुई, जब राकांपा कार्यकर्ताओं ने केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के पुणे दौरे के दौरान एलपीजी सिलेंडर की कीमतों में वृद्धि पर एक ज्ञापन देने की कोशिश की।

सुले ने कहा, ‘‘यह शाहू महाराज, महात्मा फुले, बाबासाहेब आंबेडकर और छत्रपति शिवाजी महाराज का महाराष्ट्र है। उन्होंने हमेशा महिलाओं का सम्मान किया।’’ राकांपा नेता ने कहा, ‘‘मैं आपको बता रही हूं, अगर राज्य में अब से कोई पुरुष किसी महिला को पीटने के लिए हाथ उठाएगा, तो मैं खुद वहां जाऊंगी और उसके खिलाफ अदालत में मुकदमा दायर करूंगी। मैं उसका हाथ तोड़ कर उसे दे दूंगी।’’

यह भी पढ़ें: कल से सीएम भूपेश का बस्तर दौरा, लोगों से मुलाकात कर लेंगे योजनाओं का फीडबैंक, किए गए सुरक्षा के कड़े इंतजाम

MP Supriya sule statement :  पुणे पुलिस ने सोमवार देर रात महिला राकांपा कार्यकर्ता के साथ मारपीट करने के आरोप में भाजपा के तीन कार्यकर्ताओं के खिलाफ मारपीट और छेड़छाड़ का मामला दर्ज किया। भाजपा की स्थानीय इकाई ने आरोपों को झूठा करार दिया।

सुले की टिप्पणी के बारे में पूछे जाने पर भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस ने नागपुर में संवाददाताओं से कहा कि उन्हें सभी मामलों में ऐसा ही रुख अपनाना चाहिए।

यह भी पढ़ें: तस्वीरों का तिलिस्म.. आरोपों की सियासत! आखिर किससे जुड़े हुए है गुना के गुनाहगारों के तार?

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘(सांसद) नवनीत राणा के साथ जो हुआ, उसके बाद उन्होंने बात नहीं की। जब महिलाओं पर हमले किए गए, तो वह कुछ नहीं बोलीं। जब हमारी महिला कर्मचारियों के साथ पुलिस ने दुर्व्यवहार किया तो वह कुछ नहीं बोलीं। मुझे लगता है कि उन्हें इस तरह का रुख अकसर अपनाना चाहिए, हम इसका स्वागत करेंगे।’’

यह भी पढ़ें: कोटा विधायक रेणु जोगी की तबीयत बिगड़ी, अस्पताल में कराया गया भर्ती, बेटे अमित जोगी ने ट्वीट कर दी जानकारी