सूर्य को जल चढ़ाते समय इन बातों का रखें ध्यान, दूर होंगे सारे दुख दर्द, घर चलकर आएगी सफलता

सूर्य को जल चढ़ाते समय इन बातों का रखें ध्यान, दूर होंगे सारे दुख दर्दः Surya Dev Arghya Daan vidhi, Worship Lord Surya like this

Edited By: , June 24, 2022 / 11:50 AM IST

Surya Dev Arghya Daan Vidhi हिंदू धर्म में सूर्य को एक विशेष दर्जा दिया गया है। सारी सृष्टि को ऊर्जा और प्रकाश देने वाले सूर्य देव ही हैं। ज्योतिष शास्त्र में सूर्य को स्वास्थ्य, पिता और आत्मा का कारक माना जाता है। कहा जाता है कि सूर्य को जल चढ़ाने से धर्म लाभ के साथ साथ शारीरिक लाभ भी प्राप्त होता है। क्योंकि इससे प्रातः काल उठने की आदत बनती है। स्नान करने से त्वचा की चमक बढ़ती है। प्रातः काल सूर्य की किरण पूरे बदन पर पड़ती है। उससे शारीरिक रोग दूर होता है। आलस्य नहीं आता है। आंखों की रोशनी बढ़ती है।>>*IBC24 News Channel के WhatsApp  ग्रुप से जुड़ने के लिए Click करें*<<

Read more : कुदरत का कहरः आकाशीय बिजली गिरने से 5 लोगों मौत, 4 की हालत गंभीर 

Surya Dev Arghya Daan Vidhi धार्मिक मान्यता है कि प्रतिदिन सूर्य को जल अर्पण करने से जीवन से कई दिक्कतें दूर हो जाती हैं। हालांकि सूर्य को जल देते वक्त कई बातों का ध्यान रखना चाहिए। यदि इन बातों को ध्यान में रखकर सूर्य को अर्घ्य दिया जाए तो सूर्य देव की कृपा से जीवन काफी खुशहाल हो जाता है। सूर्य को जल चढ़ाने की परंपरा के संबंध में श्री कृष्ण भगवान ने भविष्य पुराण में अपने पुत्र सांब को सूर्य देव की महिमा बताई है। भगवान श्री कृष्ण ने कहा कि सूर्य देव एक प्रत्यक्ष देवता है जिन्हें साफ-साफ देखा जा सकता है। जो भक्त पूरी श्रद्धा और निष्ठा के साथ सूर्य की उपासना करता है। उसे अभूतपूर्व लाभ प्राप्त होता है।

Read more :  सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ः पुलिस ने होटल में दी दबिश, इस हाल में मिले लड़के-लड़कियां 

ऐसे करें भगवान सूर्य की पूजा

  • प्रातः काल स्नान करके तांबे के लोटे में जल भरें। इसमें चावल, फूल और अक्षत डालकर सूर्य को अर्घ्य दें। इससे मानसिक शांति प्राप्त होती है।
  • सूर्य देव को जल अर्पित करते समय सूर्य मंत्र का जाप करने से लाभ प्राप्त होता है। मन में बुद्धि, स्वास्थ्य और सम्मान की कामना करते हुए भगवान सूर्य देव को प्रणाम करें।
  • सूर्य देव की आराधना के उपरांत तांबे का बर्तन, पीले या लाल वस्त्र, गेहूं, गुड, लाल चंदन आदि का दान करें। इन चीजों का दान करने से कुंडली से सूर्य का दोष समाप्त हो जाता है। आपका शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य उत्तम रहता है। घर में सुख शांति बढ़ती है।
  • नियमित सूर्य देव की आराधना करने से और उन्हें जल चढ़ाने से आपका शरीर स्वस्थ रहेगा और मानसिक विकार से मुक्ति मिल जाएगी।