योगी आदित्यनाथ को भाजपा ने उनके घर भेज दिया :अखिलेश

योगी आदित्यनाथ को भाजपा ने उनके घर भेज दिया :अखिलेश

Edited By: , January 15, 2022 / 06:06 PM IST

Bjp sends Yogi Adityanath to his house : लखनऊ, 15 जनवरी (भाषा) समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने गोरखपुर शहरी विधानसभा क्षेत्र से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को चुनाव मैदान में उतारने के भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के फैसले पर कटाक्ष करते हुए शनिवार को कहा कि भाजपा उन्हें पहले ही उनके घर भेज चुकी है।

भाजपा प्रत्याशियों की पहली सूची जारी होने के कुछ देर बाद सपा अध्यक्ष ने कहा कि अब वह भाजपा के किसी विधायक को अपनी पार्टी में शामिल नहीं करेंगे और वे (भाजपा) जिसके टिकट काटना चाहते हैं, काट दें।

पार्टी मुख्यालय पर आयोजित संवाददाता सम्मेलन में अखिलेश ने तंज कसते हुए कहा, ‘‘कभी कहते थे मथुरा से लड़ेंगे, कभी कहते थे अयोध्या से लड़ेंगे, तो कभी प्रयागराज से लड़ने की बात कहते थे। मुझे खुशी इस बात की है कि भाजपा ने उन्हें पहले ही उनके घर भेज दिया। हालांकि, वह (योगी आदित्यनाथ) कल से गोरखपुर में हैं, अब मुझे लगता है कि उन्हें गोरखपुर में ही रहना पड़ेगा।’’

बाद में अखिलेश ने ट्वीट किया, ‘‘कभी कहा मथुरा… कभी कहा अयोध्या… और अब कह रहे हैं… गोरखपुर… जनता से पहले इनकी पार्टी ने ही इन्हें वापस घर भेज दिया है। दरअसल उन्हें टिकट मिली नहीं है, उनकी वापसी की टिकट कट गयी है। यूपी कहे आज, नहीं चाहिए भाजपा, बाइस में बाइसिकल।”

अखिलेश ने कहा, ‘‘मैं भाजपा से कहूंगा कि अब उसके किसी भी विधायक या मंत्री को नहीं लूंगा। आप जिसके टिकट काटना चाहते हैं, काट सकते हैं।’’ हालांकि, उन्होंने बाद में कहा कि ‘एक को लूंगा’, लेकिन उसका नाम नहीं बताया।

उन्होंने भाजपा छोड़ चुके पूर्व मंत्री दारा सिंह चौहान के बारे में कहा कि चौहान को जल्द ही पार्टी में शामिल कर लिया जाएगा।

कांग्रेस के बारे में सवाल पूछे जाने पर अखिलेश ने कहा, ”कांग्रेस में केवल साजिश चल रही हैं। दिल्ली में बैठकर केवल साजिश चल रही हैं। कांग्रेस केवल साजिश कर रही हैं कि सपा को कैसे हरा दे? सपा को कैसे नुकसान हो? कांग्रेस दिन रात यहीं कोशिश कर रही हैं कि सपा को कैसे कमजोर कर दे?”

अखिलेश ने अपने कार्यकर्ताओं से कोविड-19 मानदंडों का पालन करने की अपील की और कहा कि कोविड मानदंडों का पालन नहीं करने से उन पर सवाल उठेगा।

उन्होंने कहा, ‘‘सभी नेता और कार्यकर्ता अपने-अपने इलाकों और विधानसभा क्षेत्रों में रहें। हम जानकारी एकत्र कर रहे हैं। बहुत जल्द टिकटों की घोषणा की जाएगी। यह भी संभव है कि टिकटों की कोई सूची नहीं होगी और प्रत्याशियों को ए और बी फार्म भेज दिए जायें।

सपा प्रमुख की यह टिप्पणी शुक्रवार को दो मंत्रियों और कुछ विधायकों के पार्टी में शामिल होने के लिए आयोजित कार्यक्रम के बाद कोविड -19 मानदंडों के उल्लंघन पर एक पुलिस थाने में सपा के 2,500 अज्ञात कार्यकर्ताओं के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज किए जाने के एक दिन बाद आई है।

कार्यक्रम में कोविड नियमों के उल्लंघन के मामले में गौतम पल्ली थाने के प्रभारी को निलंबित कर दिया गया है और दो वरिष्ठ अधिकारियों से स्पष्टीकरण मांगा गया है।

इस कार्यक्रम में पूर्व मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य और धर्म सिंह सैनी के साथ भाजपा के पांच तथा अपना दल (एस) के एक विधायक ने सपा की सदस्यता ग्रहण की थी।

भाजपा ने उत्तर प्रदेश विधानसभा के पहले दो चरणों में होने वाले चुनाव के लिए उम्मीदवारों के नाम घोषित कर दिए हैं। यह सूची भाजपा के उत्तर प्रदेश प्रभारी और केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने पार्टी महासचिव अरुण सिंह के साथ दिल्ली में पार्टी मुख्यालय में एक संवाददाता सम्मेलन के दौरान जारी की।

प्रधान ने कहा कि आदित्यनाथ गोरखपुर शहर से भाजपा के उम्मीदवार होंगे और सिराथू से उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य उम्मीदवार होंगे। योगी गोरखपुर से पांच बार सांसद रहे हैं। योगी और मौर्य वर्तमान में राज्य की विधान परिषद के सदस्य हैं। 403 सदस्यीय उत्तर प्रदेश विधानसभा के लिए सात चरणों में मतदान होगा। पहले चरण का मतदान 10 फरवरी को होगा।

भाषा जफर

देवेंद्र

देवेंद्र