UP Disabled Woman Suicide Case: प्रदेश में यहां पूरी चौकी को किया गया सस्पेंड, जानिए क्या है माजरा

UP Disabled Woman Suicide Case: प्रदेश में यहां पूरी चौकी को किया गया सस्पेंड, जानिए क्या है माजरा

  •  
  • Publish Date - November 27, 2023 / 09:40 AM IST

UP Disabled Woman Suicide Case: उत्तर प्रदेश। यूपी के प्रतापगढ़ में एक लापरवाही के चलते पूरी की पूरी चौकी को ही सस्पेंड कर दिया है। दरअसल, प्रतापगढ़ जिले की नगर कोतवाली के चिलबिला में पारिवारिक बंटवारे के विवाद के बीच ब्यूटी पॉर्लर चलाने वाली दिव्यांग युवती ने मुख्यमंत्री को संबोधित सुसाइड वीडियो सोशल मीडिया पर पोस्ट कर फांसी लगा ली। बता दें कि घर के बंटवारे के विवाद में महिला ने आत्महत्या किया है। वहीं, घटना में लापरवाही के चलते चौकी इंचार्ज सहित वहां तैनात सभी पांच सिपाहियों को निलंबित कर दिया गया है।

Read More: Uttarkashi Tunnel Rescue Update: रेस्क्यू ऑपरेशन के बीच बारिश ने डाला अड़ंगा, क्या आज बाहर निकल पाएंगे मजदूर..? 

सुसाइड से पहले वीडियो में बयां किया दुख

कंचन जायसवाल ने फांसी लगाने से पहले 37 सेकेंड का सुसाइड वीडियो बनाया था। वीडियो उसने फेसबुक पर पोस्ट किया तो हर किसी के मोबाइल में दिखने लगा। कंचन ने सुसाइड वीडियो में कहा कि मुख्यमंत्री जी यह आत्महत्या मैं अपनी मर्जी से नहीं कर रही। तीन भाई सचिन, शशि और ऋषि उसे तंग कर दिए हैं। वह उनका हिस्सा देना चाहती है लेकिन वे दबंगई कर रहे हैं। कहतें हैं कि प्रशासन हमारा कुछ नहीं कर सकता।

Read More: MP Weather Update: खत्म हुई ठंड की बेरुखी.. प्रदेश के इन स्थानों पर हो रही झमाझम बारिश, अलर्ट जारी 

ब्यूटी पॉर्लर चलाती थी कंचन 

बता दें कि चिलबिला निवासी स्व. मक्खन जायसवाल के 6 बेटों और 5 बेटियों में सबसे बड़ी कंचन अविवाहित और दिव्यांग थी। वह प्रयागराज-अयोध्या हाईवे पर स्थित घर के एक कमरे में ब्यूटी पॉर्लर चलाती थी। घर के बंटवारे के विवाद में उसके भाई तीन-तीन के गुट में बंट गए। वह एक गुट के भाइयों के साथ रहती थी। रविवार सुबह करीब 10 बजे उसने ब्यूटीपॉर्लर का शटर खोलने के बाद बगल की दुकान पर चाय पी। दुकान में जाने के बाद मुख्यमंत्री को संबोधित सुसाइड वीडियो बनाया और फेसबुक पर पोस्ट कर दुपट्टे से फांसी लगा ली।

कुछ ही देर में सहयोगी पहुंची तो उसका शव फंदे से लटकते देख शोर मचाने लगी। बाजार के लोग पहुंचे और शव लटकता छोड़ हाईवे पर जाम लगा दिया।  सूचना पर भारी फोर्स के साथ अधिकारी पहुंचे तो लोग अवैध कब्जे के लिए चिलबिला चौकी के पुलिसकर्मियों को जिम्मेदार बताने लगे। करीब तीन घंटे तक एसपी ने परिजनों से बात की। शटर में की गई वेल्डिंग इलेक्ट्रिक कटर से कटवाकर कब्जा दिलाया तब जाकर छह घंटे बाद जाम समाप्त हुआ।

सर्वे फॉर्म: छत्तीसगढ़ में किसकी बनेगी सरकार, कौन बनेगा सीएम? इस लिंक पर ​क्लिक करके आप भी दें अपना मत

सर्वे फॉर्म: मध्यप्रदेश में किसकी बनेगी सरकार, कौन बनेगा सीएम? इस लिंक पर ​क्लिक करके आप भी दें अपना मत

देश दुनिया की बड़ी खबरों के लिए यहां करें क्लिक

Follow the IBC24 News channel on WhatsApp