कोरोना का कहर : यहां फिर से लगाया गया टोटल लॉकडाउन, 20 दिनों तक घरों में कैद हुए लोग

ऑस्ट्रिया समेत यूरोप के कई देशों में कोविड-19 के मामले बढ़ रहे हैं, जिससे वहां की स्वास्थ्य देखभाल प्रणालियों पर भार पड़ रहा है।

Edited By: , November 22, 2021 / 09:56 AM IST

विएना। (एपी) ऑस्ट्रिया में कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों को रोकने के लिए सोमवार से राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन लगाया गया। ऑस्ट्रिया समेत यूरोप के कई देशों में कोविड-19 के मामले बढ़ रहे हैं, जिससे वहां की स्वास्थ्य देखभाल प्रणालियों पर भार पड़ रहा है।

यह भी पढ़ें:  नहर में डूबने से दो सगी बहनों की मौत, पुलिस ने बरामद की मासूम बच्चियों की लाश

यहां लगा लॉकडाउन अधिकतम 20 दिन तक चलेगा, हालांकि 10 दिन के बाद इसका पुन: आकलन किया जाएगा। इस दौरान लोगों के अनावश्यक रूप से बाहर जाने पर रोक होगी, रेस्तरां तथा ज्यादातर दुकानें बंद रहेंगी और बड़े आयोजन रद्द कर दिए जाएंगे। स्कूल और ‘डे-केयर सेंट’ खुले तो रहेंगे, लेकिन अभिभावकों को बच्चों को घर पर रखने की सलाह दी गई है।

यह भी पढ़ें:  पेट्रोल-डीजल पर आज बड़ी राहत के आसार, भूपेश कैबिनेट की बैठक में इन अहम प्रस्तावों पर होगी चर्चा

ऑस्ट्रिया में लॉकडाउन की पाबंदियां 13 दिसंबर को हटाई जा सकती हैं लेकिन संभव है कि उन लोगों के लिए पाबंदियां जारी रहें, जिनका टीकाकरण नहीं हुआ है।

यह भी पढ़ें:  गाड़ी है या बैलगाड़ी? एक बाइक पर सवार होकर चल रहे थे 5 युवक, पुलिस ने दबोचा

इससे एक दिन पहले, रविवार को मध्य विएना के बाजारों में क्रिसमस की खरीदारी करने वाले लोगों और लॉकडाउन से पहले घूमने-फिरने का आनंद उठाने के लिए लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी।

यह भी पढ़ें:  24 घंटे के भीतर छत्तीसगढ़ के इन हिस्सों में हो सकती है बारिश, बंगाल की खाड़ी में बन रहा चक्रवाती तूफान का सिस्टम

चांसलर एलेक्जेंडर शालेनबर्ग ने शुक्रवार को लॉकडाउन की घोषणा की थी। तब उन्होंने यह भी कहा था कि अगले वर्ष एक फरवरी से यहां लोगों के लिए टीकाकरण अनिवार्य किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें: छत्तीसगढ़ में 3 से 4 दिनों के बाद बढ़ सकता है ठंड, जानिए क्या कहते हैं मौसम वैज्ञानिक