माइक टायसन मैच से पहले बनाते थे संबंध, था ये सबसे बड़ा डर.. ड्राइवर ने किया सिक्रेट का खुलासा

Mike Tyson used to make relations before the match, this was the biggest fear in his mind

Edited By: , November 26, 2021 / 11:43 AM IST

Mike Tyson sex life secrets: लेजेंडरी बॉक्सर माइक टायसन के बारे में उनके ड्राइवर सबसे बड़ा खुलासा किया है। माइक का एक खास सिक्रेट है उन्हें फाइट में जाने से पहले सेक्स करना पड़ता है। टायसन बॉक्सिंग रिंग में अपनी आक्रामकता, आक्रोश और पागलपन के लिए जाने जाते हैं।

पढ़ें- IT चीफ कमिश्नरों के तबादले, हरेश्वर शर्मा MP-CG आयकर विभाग के नए डीजी, चीफ कमिश्नर वीर विरसा एक्का रायपुर भेजे गए

माइक टायसन की उम्र 55 साल है। माइक टायसन जेल जा चुके हैं, अपने विरोधी का कान काट चुके हैं, इसके अलावा दुनिया के सबसे महानतम बॉक्सर मोहम्मद अली भी ये बात कह चुके हैं कि माइक टायसन उन्हें बॉक्सिंग रिंग में हरा सकते थे।

पढ़ें- ‘मुस्लिम में योग गुनाह है’..108 बार सूर्य नमस्कार कर ट्रोल हुईं करीना कपूर खान

टायसन के पूर्व ड्राइवर रुडी गोंजालेज का कहना है कि टायसन के अंदर इतनी ऊर्जा भरी हुई रहती थी कि उन्हें अपने बॉक्सिंग मैच से पहले सेक्स करना पड़ता था। टायसन को डर था कि कहीं वे बॉक्सिंग रिंग में अपने विरोधी को जान से ना मार दें।

पढ़ें- 26/11 मुंबई हमले की 13वीं बरसी, 18 सुरक्षाकर्मियों सहित 166 ने गंवाई थी जान, गृह मंत्री अमित शाह ने दी श्रद्धांजलि 

ब्रिटिश अखबार द सन के साथ बातचीत में गोंजालेज ने कहा कि माइक का एक खास सीक्रेट ये है कि उन्हें अपनी फाइट से पहले सेक्स करना पड़ता है। ड्राइवर होने के अलावा मेरा काम ये भी था कि मुझे बॉक्सिंग गेम से पहले उनके लिए ऐसी महिला को ढूंढना पड़ता था जो टायसन के साथ संबंध बनाने को तैयार हो।

पढ़ें- कुत्ते का मीट अब होने जा रहा बैन.. मर्दानगी के नाम पर इस देश में खाया था कुत्ते का मीट

टायसन कहते थे कि अगर मैंने ऐसा नहीं किया तो मैं अपने विरोधी को मार डालूंगा। अपने सेक्स सेशन के बाद माइक थोड़ा शांत होते थे और अक्सर कहते थे कि चलो आज मेरा विरोधी मरने से बच जाएगा। सच कहूं तो टायसन एक रेलगाड़ी की तरह था जो सामने आने वाले किसी भी शख्स को खत्म करने के लिए तैयार रहता था।

पढ़ें- देश में कोरोना के 10,549 नए केस, 488 ने तोड़ा दम.. एक्टिव मरीजों की संख्या में भी इजाफा

55 साल के टायसन का डिफेंस शानदार था लेकिन उससे ज्यादा खतरनाक उनका आक्रमण था। वे अपने शुरुआती करियर के दौर में कुछ राउंड्स में ही अपने विरोधियों को चित कर दिया करते थे। टायसन का दबदबा ऐसा था कि उन्होंने 20 साल की उम्र में ही अपना पहला विश्व चैंपियनशिप बेल्ट जीत लिया था।