Minor Girl Dies in Madrasa

मदरसा में नाबालिग छात्रा की मौत का मामला, जांच के दौरान हुए रौंगटे खड़े करने वाले खुलासे

Minor Girl Dies in Madrasa: मदरसा में नाबालिग छात्रा के मौत के मामले में जांच में टीम को कई गड़बड़ियां मिली है

Edited By: , November 29, 2022 / 08:59 PM IST

सूरजपुर। Minor Girl Dies in Madrasa: जिले के भवराही गांव के मदरसा में नाबालिग छात्रा के मौत के मामले में जहां एक ओर पुलिस ने कार्यवाही करते हुए मदरसे में ही पढ़ाने वाले दो मौलाना को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है, तो वहीं अब जिला प्रशासन भी एक्शन मोड में आ गया है। कलेक्टर के निर्देश पर जिला शिक्षा अधिकारी के नेतृत्व में एक टीम मदरसा पहुंची, और मदरसा के सभी दस्तावेज की जांच की।

देर रात प्लांट में लीक हुआ अमोनिया गैस, दो दर्जन से ज्यादा मजदूर बीमार, कुछ की हालत गंभीर 

जांच में टीम को मिली कई गड़बड़ियां

Minor Girl Dies in Madrasa: बता दे कि जांच में टीम को कई गड़बड़ियां मिली है, इस मदरसे को प्रदेश सरकार के द्वारा आठवीं तक के पढ़ाई कराने की ही परमिशन है। जबकि यहां उच्च कक्षाओं की भी तालीम देना पाया गया, साथ ही इस मदरसे में किसी भी बच्चे के रहने के लिए हॉस्टल की परमिशन नहीं है, बावजूद इसके इस मदरसे में 160 लड़कियां कथित हॉस्टल में रहती पाई गई। जांच पर गई टीम को और कई चौंकाने वाले तथ्य मिले।

यात्री बस में हुआ धमाका, इतने लोग हुए घायल, पुलिस और अन्य एजेंसियां मौके पर मौजूद 

बिना अनुमति के बच्चों को दिया जा रहा था मजहबी शिक्षा

Minor Girl Dies in Madrasa: जांच टीम के अनुसार, मदरसे से मृतक नाबालिग छात्रा की पढ़ाई पिछले साल ही समाप्त हो गई थी लिहाजा उसके आगे की तालीम हासिल करने के कोई दस्तावेज उपलब्ध नहीं है। इस पर जिला शिक्षा अधिकारी ने बताया की वहां बिना अनुमति के बच्चों को मजहबी शिक्षा देना पाया गया, जिसकी अनुमति भी मदरसा समिति ने नही ली है। इसके अलावा मदरसे के दस्तावेजों के अनुसार वहां कुल 120 लड़कियां अध्ययनरत हैं, जबकि हॉस्टल में 160 लड़कियों के रहने के दस्तावेज मिले हैं जो की गलत है। फिलहाल मदरसे में जांच के लिए गई टीम अपनी जांच रिपोर्ट कलेक्टर को देने के साथ साथ मदरसा बोर्ड को भेजने की बात कह रहे हैं।

और भी है बड़ी खबरें…