कांग्रेस को सबसे बड़ा झटका, पूर्व सीएम सहित 12 विधायकों ने छोड़ी पार्टी, थाम लिया इस पार्टी का हाथ

Biggest blow to Congress, 12 MLAs including former CM left the party,

Edited By: , November 25, 2021 / 12:22 PM IST

MLAs including former CM left party : शिलांग।  मेघालय के पूर्व मुख्यमंत्री मुकुल संगमा 12 कांग्रेसी विधायकों ने टीएमसी का दामन थाम लिया है। राज्य में कांग्रेस के 18 विधायक थे, जिनमें से अब पार्टी में केवल 6 बचे हैं।

पढ़ें- स्कूल के टॉयलेट में ‘सीक्रेट रूम’, छात्र ने कैमरे के सामने दिखाया..

मेघालय में अचानक घटे इस घटनाक्रम के बाद अब TMC बिना चुनाव लड़े वहां की सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी बन गई है। चुनाव आयोग के नियमों के मुताबिक दल-बदलने के लिए दो-तिहाई का आंकड़ा पूरा करना जरूरी होता है। ऐसे में TMC ज्वॉइन करने वाले मुकुल संगमा समेत विधायकों की विधायकी पर भी कोई खतरा नहीं होगा।

पढ़ें- आदिवासी क्षेत्रों में विकास की नई रौशनी फैलाएगी, चिराग परियोजना, 14 जिलों के आदिवासी क्षेत्रों में होगी लागू

सूत्रों के मुताबिक मेघालय के पूर्व सीएम रहे मुकुल संगमा पिछले काफी दिनों से पार्टी हाई कमान से नाराज चल रहे थे। उनकी नाराजगी इस बात को लेकर थी कि हाई कमान ने बिना उनसे चर्चा किए विन्सेंट एच पाला को मेघालय प्रदेश कांग्रेस कमिटी का नया प्रमुख बना दिया। इस मुद्दे पर राहुल गांधी ने अक्टूबर में मुकुल और विन्सेंट एच पाला से मुलाकात की थी। तब माना जा रहा था कि विवाद अब सुलझ गया है लेकिन एक महीने बाद ही मुकुल समेत 12 विधायक कांग्रेस को छोड़ गए।

पढ़ें- लोगों के सामने लग रही बेटियों की बोलियां, ऐसी क्या मजबूरी आ पड़ी.. जानिए

बताते चलें कि TMC इन दिनों पूरे देश में पार्टी विस्तार में जुटी हुई है। उसने गोवा में पूर्व सीएम और कांग्रेस नेता लुइजेन फ्लेरियो को पार्टी में शामिल किया। वहीं हरियाणा से कांग्रेस नेता अशोक तंवर, बीजेपी के बागी नेता रहे कीर्ति आजाद को भी अपने साथ जोड़ा है। टीएमसी ने असम और त्रिपुरा में भी तेजी से अपना विस्तार किया है।

पढ़ें- प्रभास ने बॉलीवुड के ‘बाहुबलियों’ को भी पीछे छोड़ा, ‘आदि पुरुष’ के लिए ली भारी-भरकम रकम

माना जा रहा है कि पार्टी प्रमुख ममता बनर्जी की नजर वर्ष 2024 में होने वाले संसदीय चुनावों पर है। पार्टी विस्तार के जरिए ममता बनर्जी वर्ष 2024 के चुनावों में कांग्रेस के बजाय खुद को बीजेपी का सबसे बड़ा प्रतिद्वंदी बताना चाहती हैं। इसीलिए विभिन्न राज्यों में बड़े नेताओं को अपने साथ करने में जुटी हुई हैं।

पढ़ें- बांग्लादेशी सेक्स रैकेट का बड़ा सरगना दलाल ओमिन गिरफ्तार, लड़कियों को बॉर्डर पार करा देह व्यापार के लिए लाता था 

बता दें कि बीते दिनों दूसरे दलों के कई असंतुष्ट नेताओं ने टीएमसी का दामन थामा है। इनमें कांग्रेस नेताओं की संख्या ज्यादा है। यूपी में कांग्रेस पार्टी से नाराज पूर्व सीएम कमलापति त्रिपाठी के पौत्र ललितेश त्रिपाठी टीएमसी में शामिल हो गए थे। बीजेपी के पूर्व नेता और केंद्रीय मंत्री रहे बाबुल सुप्रियो और यशवंत सिन्हा पहले ही टीएमसी का झंडा थाम चुके हैं।