Girlfriend became a murderer in the desire of lover

प्रेमी की चाह में कातिल बनी प्रेमिका, पुलिस को धोखा देने के लिए किया ऐसा काम, ऐसे हुआ मामले का खुलासा

Girlfriend became a murderer in the desire of lover :प्रेमी की चाह में कातिल बनी प्रेमिका, पुलिस को धोखा देने के लिए किया ऐसा काम, ऐसे हुआ...

Edited By: , August 10, 2022 / 04:38 PM IST

देवास। Girlfriend kill boyfriends second wife : मध्यप्रदेश के देवास शहर में रविवार की शाम 7 अगस्त को एक युवती द्वारा जहरीला पदार्थ खाकर आत्महत्या करने का मामला सामने आया था, लेकिन वो आत्महत्या नही थी ये पुलिस को समझने में देरी नही लगी। जब कोतवाली पुलिस ने इस मामले की जांच की, तो मामले में कई चौंकाने वाली बात सामने आई।

Read More : देर रात भाई ने फोन बंद कर सोने को कहा, सुबह मिली नाबालिग की लाश….

जांच में सामने ये आया कि मृतिका युवती रानी मालवीय मेडिकल स्टोर्स संचालक बबलू से प्यार करती है, और बबलू का एक अन्य शादीशुदा युवती से भी प्रेम प्रसंग चल रहा है। वहीं बबलू की पहली पत्नी होकर उसने रानी को दूसरी का दर्जा दे रखा था। रितु व रानी प्रेमिकाओं को इसका पता होने के बावजूद वो बबलू के प्यार में उलझी थी। बस यही ट्राइंगल ले आया कहानी को मौत के सफर तक।

बता दे कि इन दोनों प्रेमिकाओं में अक्सर बबलू के लिए विवाद होते रहते थे। जिसके चलते रितु ने अपनी सहेली के साथ बबलू की दूसरी पत्नी यानी रानी को मौत के घाट उतारने का फैसला लिया और बड़ी हो चतुराई से उसका गला घोंटकर हत्या कर दी। बाद में रितु ने रानी की हत्या की बात बबलू को बताई तो बबलू के हाथ पैर फूल गए। वो रानी को अस्पताल लेकर पहुंचा, जहां पर उसे मृत घोषित कर दिया गया।

Read More : खुशखबरी… ट्रेन के किराए में बुजुर्गों को मिलेगी 50 फीसदी छूट! संसदीय समिति ने की सिफारिश

क्या है पूरा मामला

सीएसपी विवेक सिंह चौहान ने बताया कि रानी उर्फ राजू मालवीय पिता हरीसिंह 23 वर्ष निवासी ग्राम बरछापुरा थाना जावर जिला सीहोर पिछले 3-4 वर्षों से देवास में अखाड़ा रोड स्थित एक मकान में किराये से अकेली रह रही थी और हैबतराव मार्ग पर स्थित केदारेश्वर मंदिर के समीप बबलू उर्फ नृसिंह दास पिता मनोज परमार्थी के मेडिकल पर काम करती थी। बबलू पहले से ही नीलम नाम की लड़की से शादीशुदा है और उसके 3 बच्चे भी है, किंतु उसने 3 माह पूर्व रानी उर्फ राजू से मंदिर में जाकर विवाह रचा लिया था और वे दोनों पति-पत्नी के रूप में ही रहने लगे। लेकिन बबलू के एक अन्य लड़की रितू गौड़ निवासी महेश टाकिज के पीछे देवास से भी अवैध संबंध हो गए थे। इस बात की जानकारी रानी को भी थी। इसीलिए रानी और रितू के बीच बबलू को लेकर लड़ाई होती रहती थी और दोनों एक-दूसरे को बबलू को छोडऩे के लिए दबाव बनाती थी। इसी बात को लेकर रानी व रितू के बीच रविवार के दिन भी विवाद हुआ था और रितू काफी नाराज थी, इसीलिए उसने अपनी अन्य सहेली प्रियंका कुशवाह से बात की और रानी को रास्ते से हटाने की योजना बना डाली।

Read More : मध्यप्रदेश के इस मंदिर में विदेशों से आती है भगवान गणेश के लिए राखियां, जानिए क्या है इसकी खासियत

रितू व प्रियंका दोनों दीपक सोनी न्यू मनीराम की दुकान पर काम करती थी। दोनों शाम के समय दुकान से निकली और सीधे अखाड़ा रोड स्थित रानी के घर पहुंची, जहां रानी उन्हें अकेली मिली। पहले तो रितु ने रानी को खूब खरी-खोटी सुनाई और फिर मौका मिलते ही रितू व प्रियंका ने अपने दुपट्टे से रानी का गला घोंटकर मौत के घाट उतार दिया। इस घटना को अंजाम देने के बाद दोनों ही सहेली सहजता के साथ वहां से निकल गई और प्रियंका कुशवाह तो दुकान पर जाकर बैठ गई और रितु बबलू परमार्थी के घर गई, जहां उसने बबलू को पूरी घटना बताई। यह सुनकर बबलू घबराया और रानी के घर पहुंचा, जहां पर वह मूर्छित अवस्था में पड़ी हुई थी। जिसे लेकर तत्काल बबलू जिला अस्पताल गया, किंतु वहां पर डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया और इस बात की जानकारी भी कोतवाली पुलिस को दी। जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने बबलू परमार्थी, रितु गौड़ व प्रियंका कुशवाह के खिलाफ धारा 302 व अन्य धाराओं में प्रकरण दर्ज कर हिरासत में लेकर पूछताछ शुरु कर दी है।

Read more: IBC24 की अन्य बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें