एक बयान…सौ फसाद ! बीजेपी नेता के बयान पर विवाद…

एक बयान...सौ फसाद ! बीजेपी नेता के बयान पर विवाद... one statement, hundred depression! Controversy over BJP leader statement

: , November 12, 2021 / 12:20 AM IST

भोपालः statement hundred depression बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव और मध्यप्रदेश के प्रभारी मुरलीधर राव का एक बयान पर खूब बवाल हो रहा है। दरअसल मुरलीधर राव ने कहा है कि उनकी एक जेब में ब्राह्मण है तो दूसरी जेब में बनिया। हालांकि विवाद बढ़ने पर उन्होंने डैमेज कंट्रोल की कोशिश की, लेकिन कांग्रेस ने इसे वर्ग विशेष का अपमान बताकर बड़ा सियासी मुद्दा बनाया तो अब पार्टी के भीतर ही विरोध शुरू हो गया है। हालांकि बीजेपी नेता अब सफाई देते फिर रहे हैं।

Read more : जीरम…8 साल, कई सवाल | आयोग जिंदा है… जांच जारी है… 

statement hundred depression एमपी बीजेपी के प्रदेश प्रभारी मुरलीधर राव का ब्राह्मणों को जेब में रखने वाले बयान के बाद सियासत गरमाती जा रही है। इस बयान को लेकर अभी तक कांग्रेस बीजेपी पर हमलावर थी। अब ब्राह्मण-बनियों वाले बयान पर खुद बीजेपी के कई नेता मुखर हो गए हैं। इस लिस्ट में बीजेपी में लंबे समय से उपेक्षित चल रहे पूर्व मंत्री अनूप मिश्रा की एंट्री हो गई है। अखिल भारतीय ब्राह्मण महासभा के सम्मेलन में अनूप मिश्रा ने मुरलीधर राव के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि कोई माई का लाल ब्राह्मणों का भक्षण नहीं कर सकता। कोई यह न भूले कि हम सुदामा हैं। लेकिन वक्त आने पर हमें परशुराम बनने में भी देर नहीं लगेगी। पार्टी के सीनियर नेता सत्यनारायण सत्तन ने भी मुरलीधर राव के बयान पर नाराजगी जताई है।

Read more : नक्सलियों ने जनअदालत लगा कर युवक को उतारा मौत के घाट, मामले पर एसपी ने कही ये बात

मुरलीधर राव के खिलाफ बीजेपी में उठ रहे विरोध के स्वर से पार्टी के नेता परेशान है। विवादित बयान के बाद पार्टी पदाधिकारी सफाई देते फिर रहे हैं। कुछ दबी-जुबान में इसे गलत बता रहे हैं तो कुछ खुलकर विरोध कर रहे हैं। मुरलीधर राव के इस बयान पर बीजेपी मुश्किल में है तो कांग्रेस ने इसे वर्ग विशेष का अपमान बताकर बड़ा सियासी मुद्दा बना लिया है।

read more : आबकारी मंत्री कवासी लखमा के भाई का निधन, अस्पताल में ली अंतिम सांस

इससे पहले इंदौर में ब्राह्मण समाज ने मुरलीधर राव का पुतला जलाकर उनका विरोध जताया। बहरहाल मुरलीधर राव के बयान की आग फिलहाल थमती हुई नजर नहीं आ रही है। जाहिर है मध्यप्रदेश में बीजेपी का फोकस एससी और एसटी वर्ग पर है। ऐसे में मुरलीधर राव का बयान सामने आने के बाद बीजेपी के परंपरागत वोट खिसकने का डर पैदा हो गया है, जिसका खामियाजा बीजेपी को यूपी, एमपी सहित पूरे देश में उठाना पड़ सकता है।