‘बच के रहना, यहां खतरा है’.. इस अस्पताल की बिल्डिंग हुई जर्जर, प्रबंधन ने दीवारों पर लिखी चेतावनी

'बच के रहना, यहां खतरा है'.. इस अस्पताल की बिल्डिंग हुई जर्जर : The hospital building became dilapidated, management wrote a warning

: , January 12, 2022 / 12:06 AM IST

ग्वालियरः management wrote a warning जिले के जयारोग्य अस्पताल की बिल्डिंग जर्जर हो चुकी है। इतनी कि अस्पताल के चारों ओर बकायदा चेतावनी लिख दी गई है। हैरानी की बात ये है कि इस बिल्डिंग में इलाज करा रहे करीब 300 से ज्यादा मरीज भी खतरे के जद में है। अस्पताल की नई बिल्डिंग भी बनकर तैयार है, लेकिन उसमें मरीजों की शिफ्टिंग कब होगी। इसका जवाब किसी के बाद नहीं है।

Read more : ‘बच के रहना, यहां खतरा है’.. इस अस्पताल की बिल्डिंग हुई जर्जर, प्रबंधन ने दीवारों पर लिखी चेतावनी 

management wrote a warning आवश्यक सूचना… छज्जे, बालकनी, कंगूरे जर्जर स्थिति में हैं। कृपया इनसे दूर ही रहें। ये चेतावनी लिखी है ग्वालियर के जयारोग्य अस्पताल की बिल्डिंग पर। अस्पताल के चारों ऐसी चेतावनी लिखकर लोगों को आगाह किया गया है। दरअसल जयारोग्य अस्पताल की बिल्डिंग जर्जर हो चुकी है। जो कभी भी किसी हादसे का कारण बन सकती है। ये हालात तब है, जब सैंकड़ों मरीज इस अस्पताल में इलाज करा रहे है और दिनभर में करीब 1 हजार से ज्यादा मरीज OPD में आते है। कांग्रेस ने इसे लेकर सरकार पर सवाल उठाए है।

Read more : छत्तीसगढ़ में बारिश से बढ़ी ठंड, सब्जी और दलहन फसलों को नुकसान, 13 जनवरी तक ऐसे ही रहेगा मौसम का मिजाज 

हालांकि नया अस्पताल भवन भी बनकर तैयार है, लेकिन अब तक मरीजों की शिफ्टिंग नहीं हो सकी है। जिम्मेदार जनप्रतिनिधि और अस्पताल प्रबंधन जल्द ही शिफ्टिंग की बात कह रहा है। जयारोग्य अस्पताल की ये बिल्डिंग करीब 120 साल पुरानी है। पुरातत्व विभाग भी इसे कंडम घोषित कर चुका है। बावजूद इसके आज भी मरीज यहां भर्ती होकर इलाज ले रहे है। उम्मीद है जल्द ही अस्पताल की नई बिल्डिंग में शिफ्टिंग की ठोस पहल होगी।