Tiger continues to wreak havoc in the capital, animals made their prey

राजधानी में बाघ का कहर जारी, जानवरों को बनाया अपना शिकार, पकड़ने के लिए वन विभाग ने बनाया ऐसा प्लान

भोपाल के मौलाना आजाद राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान में टाइगर मूमेंट जारी है। कल रात में टाइगर ने 8 नंबर हॉस्टल के पास एक गाय को अपना शिकार बनाया।

Edited By: , November 29, 2022 / 08:33 PM IST

Tiger havoc continues in Bhopal : भोपाल के मौलाना आजाद राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान में टाइगर मूमेंट जारी है। कल रात में टाइगर ने 8 नंबर हॉस्टल के पास एक गाय को अपना शिकार बनाया। जिसकी पुष्टी वन विभाग ने अपने पत्र में की है। हालांकि, वह ट्रैप कैमरों में नहीं दिखा। टाइगर के मूवमेंट से स्टूडेंट्स दहशत में हैं। वे अपने हॉस्टल में ही कैद होकर रह गए हैं। इधर, किसी को भी कैंपस में पैदल घूमने पर रोक लगी हुई है। पूरे कैंपस में गार्ड्स के साथ वन विभाग कर्मी तैनात हैं। >>*IBC24 News Channel के WHATSAPP  ग्रुप से जुड़ने के लिए  यहां CLICK करें*<<

read more : दुबई में खुला भव्य हिंदू मंदिर, मुस्लिम देश होकर मंदिर की सुरक्षा के किए कड़े इंतजाम, इन देवी-देवताओं की प्रतिमा है विराजमान 

Tiger havoc continues in Bhopal : वन विभाग को टाइगर के मैनिट में चार दर्जन से अधिक अलग-अलग स्थानों पर पगमार्क भी मिले हैं। तो देर रात बाघ की दहाड़ ने मैनिट के साथ नेहरू नगर वासियों को भी हिलाकर रख दिया। बता दें कि सोमवार रात 11 बजे तीन स्टूडेंट बाइक से हॉस्टल जा रहे थे, तभी उन्हें जानवर अपनी ओर आता दिखाई दिया। वे इतने डर गए कि वहीं बाइक छोड़कर भाग गए। उन्होंने इसकी जानकारी वार्डन और गार्ड को दी। उन्होंने जानवर के टाइगर होने की बात कही थी।

read more : इस बल्लेबाज ने ऐसा जड़ा SIX, बॉल गिरी सीधे 105 मीटर दूर, नजारा देख दर्शकों की फटी रह गई आंखें 

Tiger havoc continues in Bhopal : वन विभाग को सूचना मिलने पर वाल्मी में पेट्रोलिंग कर रही टीम सर्चिंग के लिए मैनिट पहुंची। रातभर सर्चिंग की गई। पिंजरे और ट्रैप कैमरे भी लगाए गए थे। बाघ ने तीन दिन के भीतर तीन गायों पर अटैक किया है। रविवार और सोमवार की दो गायों को शिकार बनाने की कोशिश की थी। गायों के पीठ, पैर और गले पर पंजे के निशान मिले थे। मंगलवार की रात फिर एक गाय पर अटैक किया। टाइगर ने गाय के शरीर का कुछ हिस्सा खा भी लिया। चूंकि, शिकार के बाद टाइगर फिर उसे खाने आता है। इसलिए वन विभाग ने यहां पर पिंजरा और ट्रैप कैमरे लगाए हैं। मैनिट में प्रवेश पर पूरी तरह रोक लगा दी गई है।

और भी लेटेस्ट और बड़ी खबरों के लिए यहां पर क्लिक करें