सीएम बघेल ने प्रधानमंत्री को लिखी चिट्ठी, धान खरीदी के लिए समय पर बारदानों की आपूर्ति कराने का किया अनुरोध

CM Baghel wrote a letter to the Prime Minister

Edited By: , November 23, 2021 / 12:23 PM IST

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर खाद्य विभाग भारत सरकार द्वारा 12 नवंबर 2021 को जारी प्लान के अनुसार नए जूट बारदानों की समयानुसार आपूर्ति की व्यवस्था सुनिश्चित करने का अनुरोध किया है। बघेल ने अपने पत्र में कहा है कि प्लान के अनुसार छत्तीसगढ़ को 2।14 लाख गठान नये जूट बारदाने जूट कमिश्नर कोलकाता के माध्यम से क्रय करने की अनुमति प्राप्त हुई है।

पढ़ें- गलवान के बलवानों का सम्मान, शहीद कर्नल संतोष बाबू को मरणोपरांत महावीर चक्र, राष्ट्रपति खुद चलकर आए पास और किया सम्मानित 

इसके विरुद्ध राज्य को अभी तक मात्र 86,856 गठान नये जूट बारदाने प्राप्त हुए हैं, जो प्लान अनुसार अपेक्षित मात्रा से काफी कम है। राज्य को धान खरीदी के लिए 5।25 लाख गठान बारदाने की आवश्यकता है। जूट कमिश्नर द्वारा प्लान के अनुसार यदि समयानुसार शतप्रतिशत बारदानों की आपूर्ति नहीं की जाती है तो राज्य में कानून व्यवस्था की स्थिति निर्मित हो सकती है।

पढ़ें- Royal Enfield की आने वाली है 4 नई बाइक.. मिलेंगे दमदार फीचर्स.. जानिए लॉन्चिंग डेट

प्रधानमंत्री मोदी को लिखे गए पत्र में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है छत्तीसगढ़ में खरीफ विपणन वर्ष 2021-22 में भारत सरकार द्वारा घोषित समर्थन मूल्य पर किसानों से धान खरीदी का कार्य 01 दिसंबर, 2021 से प्रारंभ होना संभावित है, जिसके लिए सभी आवश्यक तैयारियां की जा रही हैं। खरीफ विपणन वर्ष 2021-22 में समर्थन मूल्य पर राज्य में किसानों से 105 लाख टन धान उपार्जन होना अनुमानित है, जिसके लिए 5।25 लाख गठान बारदाने की आवश्यकता होगी।

पढ़ें- गणित के प्रोफेसर पर सेक्स रैकेट चलाने का आरोप, कॉलेज के स्टाफ और छात्राएं भी शामिल, छात्रा बोली-अश्लील किताबें, सेक्सुअल टॉयज देकर अश्लीलता करने पर करते थे मजबूर

इसमें से 2।14 लाख गठान नये जूट बारदाने जूट कमिश्नर कोलकाता के माध्यम से क्रय करने की अनुमति खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा 12 नवंबर 2021 को जारी पत्र के द्वारा दी गई है। इसके अनुसार माह अगस्त हेतु 0।19 लाख गठान, सितंबर हेतु 0।32 लाख गठान, अक्टूबर हेतु 0।72 लाख गठान, नवंबर हेतु 0।15 लाख गठान एवं दिसंबर हेतु 0।76 लाख गठान नये जूट बारदाने की माहवार आपूर्ति किये जाने का शेड्यूल जारी किया गया है।

पढ़ें- WhatsApp के दो जबरदस्त फीचर्स लॉन्च, जानिए क्या है Flash Calls और कैसे करता है काम.. अब Chatting का अंदाज होगा नया 

बघेल ने कहा है कि छत्तीसगढ़ राज्य सहकारी समिति विपणन संघ मुख्यालय नवा रायपुर द्वारा 2।14 लाख गठान जूट बारदाने क्रय करने के लिये इंडेन्ट जारी किये गये है, इसके विरुद्ध राज्य को अभी तक मात्र 86,856 गठान नये जूट बारदाने ही प्राप्त हुए हैं, जो प्लान अनुसार अपेक्षित मात्रा से काफी कम है।

पढ़ें- महिला ने कुत्ते से कर ली शादी, हाल में हुआ था तलाक.. बोलीं- इसके साथ मैं काफी खुश हूं

जूट कमिश्नर के माध्यम से राज्य को प्राप्त होने वाले उक्त समस्त नये जूट बारदानों की शत-प्रतिशत आपूर्ति हेतु राज्य स्तर से निरंतर प्रयास किये जा रहे हैं। राज्य द्वारा किये जा रहे सर्वश्रेष्ठ प्रयासों के बावजूद जूट कमिश्नर द्वारा आपूर्ति किये जा रहे बारदानों की गति में संतोषप्रद प्रगति परिलक्षित नहीं हुई है।