अनाज कारोबारी से 50 लाख रुपए लूटने वाले दो नाबलिग सहित 10 आरोपी गिरफ्तार, मास्टर माइंड सहित 3 अभी भी फरार

राजधानी रायपुर में अनाज कारोबारी से लाखों की लूट करने वाले 10 आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार आरोपियों में 2 नाबालिग भी

Edited By: , May 21, 2022 / 08:41 PM IST

रायपुर। राजधानी रायपुर में अनाज कारोबारी से लाखों की लूट करने वाले 10 आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार आरोपियों में 2 नाबालिग भी शामिल है। पुलिस ने इन आरोपियों के पास से लूट की रकम में से 8 लाख नगदी समेत 5 बाइक और 5 मोबाइल जब्त किए है। इस डकैती के मास्टरमाइंड अब भी फरार हैं।

यह भी पढ़े :  कांग्रेस पार्टी ने नगर पंचायत के पांच पार्षदों को दिखाया बाहर का रास्ता, इतने साल तक रहेंगे पार्टी से बाहर 

कुछ दिनों से कर रहे थे रेकी

इस मामले में खुलासा करते हुए पुलिस ने बताया कि इन डकैतो ने 3 से 4 दिन पहले से ही कारोबारी की रेकी करने के बाद 16 मई की रात को कारोबारी के घर जाते समय वारदात को अंजाम दिया था। लुटेरो ने पुछताछ में बताया कि इस डकैती से पहले तीनो फरार आरोपी देवेन्द्र धृतलहरे, अजय उर्फ अज्जू और तिलक ने माना में सबको शराब पिलाई और इस पुरी डकैती की घटना की प्लानिंग करने के बाद इस पुरी वारदात को अंजाम दिया।

यह भी पढ़े : बिल्डर अजय राठी ने नाबालिग सेल्स गर्ल से की रेप की कोशिश, पहुंचा हवालात, पुलिस ने आरोपी को ऑफिस से किया गिरफ्तार

मार्केट में हमाली का काम कर चुके है आरोपी

दरअसल इस मामले में सबसे चौकाने वाली बात ये है कि फरार आरोपी देवेन्द्र और अजय डूमरतराई थोक मार्केट में हमाली का काम कर चुके है और उनको मालुम था कि कई कारोबारी रात में अपने साथ मोटी रकम लेकर घर जाते हैं। इन आरोपियों ने तय प्लानिंग के चलते कारोबारी नरेन्द्र खेत्रपाल को अपना टारगेट बनाया और बाकायदा 3 से 4 दिन रेकी की।

यह भी पढ़े : IBC24 का बड़ा खुलासा: सबसे बड़ा ‘रेड’ अलर्ट!, MMC जोन में नक्सलियों के नए सुप्रीमो की धमक, हाई अर्लट पर इन राज्यों की पुलिस 

कारोबारी पर किया था रॉड और डंडो से वार

इसके बाद उन्होंने कारोबारी के मार्केट से निकलते ही पहले गाडी का एक्सीडेंट करके उनसे पैसे लुटने का प्रयास किया, लेकिन कारोबारी ने वहां से भागने की कोशिश की। जिसके बाद डकैतो ने उनका देवपुरी तक पीछा किया और मिंटू पब्लिक स्कूल के सामने कारोबारी पर रॉड और डंडो से वार कर उन्हें घायल कर डकैती की वारदात को अंजाम दिया और वहां से फरार हो गए।

यह भी पढ़े : Sarkari Naukri 2022: युवाओं के लिए 2 हजार पदों पर निकली वैकेंसी, जल्द करें अप्लाई 

ASP कीर्तन राठौर ने दी जानकारी

रायपुर ग्रामीण के ASP कीर्तन राठौर ने बताया कि घटना के बाद से माना थाना पुलिस औऱ सायबर सेल की करीब 10 टीमे डकैतो की तलाश में जुटी थी। पुलिस टीम को कमल विहार के पास एक पासबुक पड़ी हुई मिली। इसके बाद पुलिस ने उस इलाके की सीसीटीवी फुटेज खंगाली और पुलिस को बैंकों पर डकैत भागते हुए दिखे।

यह भी पढ़े : आज रात 12 बजे से होगा पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बदलाव, जानिए पहले क्या थे दाम

आरोपियों ने व्यापारी के एटीएम से निकाले पैसे

आरोपियों ने गलती करते हुए अभनपुर के केंद्री और धमतरी के एसबीआई एटीएम से कारोबारी के यूनियन बैंक एटीएम से 2 बार में कुल 40 हजार रूपये निकाले। इस दौरान लुटेरे एटीएम के सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गए और उनकी बाइक का नंबर भी कैमरे में रिकॉर्ड हो गया। पुलिस ने फुटेज के आधार पर खोजबीन शुरू की और केद्री गांव में रहने वाले शशिकांत चतुर्वेदी और शिव कुमार कोसले को गिरफ्तार किया। पुलिस ने जब इनसे कड़ाई से पूछताछ की तो उन्होंने पूरी प्लानिंग और सभी चीजें पुलिस को बता दी।

यह भी पढ़े : IBC24 का बड़ा खुलासा : सबसे बड़ा ‘रेड’ अलर्ट!, हिंसक और बेहद खूंखार है नक्सलियों का MMC SUPRIMO, क्या हैं उसके इरादें?… 

सभी आरोपी है दोस्त

गिरफ्तार किए गए सभी आरोपी दोस्त हैं और नशे के आदि है। सभी अभनपुर,मुजगहन के आसपास के रहने वाले हैं। इन सभी डकैतो ने छोटे-छोटे गैंग बनाकर आसपास के इलाको में मोबाइल और नगदी छीनने की वारदातो को अंजाम भी दिया है। पुलिस ने 2 नाबालिगो समेत शिव कुमार कोसले, मनीष यादव, टिकेश चतुर्वेदी, सुरज महेश्वर, नरेन्द्र बंजारे, अगम दास कोसले समेत कुल 10 शातिर डकैतो को गिरफ्तार किया है।