World Environment Day 2023: छत्तीसगढ़ का ऐसा अनोखा गांव.. जहां एक व्यक्ति ही नहीं पूरे ग्रामीण मिलकर करते हैं बगीचे की रखवाली

vishv paryavaran divas 2023: यहां पूरा गांव मिलकर करता है बगीचे की रखवाली.. Whole villagers together take care of the garden in Sewari

  •  
  • Updated On - June 5, 2023 / 12:43 PM IST

Whole villagers together take care of the garden in Sewari

World Environment Day 2023: बलरामपुर। पर्यावरण को लेकर आपने कई खबरें देखी होंगी, लेकिन आज विश्व पर्यावरण दिवस (World Environment Day 2023) के मौके पर बलरामपुर जिले के एक गांव की ऐसी कहानी हम आपको दिखाने जा रहे हैं जहां पर पूरा गांव मिलकर एक बगीचे की रखवाली करता है। जहां लगभग 500 से अधिक पेड़ मौजूद है। इससे ना सिर्फ पर्यावरण के प्रति एक संदेश दे रहे हैं बल्कि साल में उन्हें अच्छी आमदनी भी होती है।

Read More:  भू-माफियाओं के हौसले बुलंद, मालिक को ही बंधक बनाकर जमकर पीटा, फिर भी नहीं भरा मन तो.. 

यह ग्राम पंचायत सेवारी यहां वन विभाग ने लगभग 20 साल पहले आम के विभिन्न प्रजातियों के लगभग 500 पौधों का रोपण किया था आज यह पौधे पूरी तरह से तैयार हैं और हर साल इनमें अंगूर की तरह आम के फल लटके रहते हैं। गांव के सभी लोग इस बगीचे की रखवाली करते हैं, हर साल आम के बगीचे का टेंडर होता है जिसमें कुछ पैसा वन विभाग को जाता है और कुछ पैसा इस बगीचे की देखभाल में खर्च होता है।

दूर-दूर से लोग इस सुंदर आम के बगीचे को देखने आते हैं, इस साल भी आम की बंपर पैदावार हुई है और लगभग ढाई लाख रुपए में इसका टेंडर हुआ है।  पूरे आम के सीजन के दौरान लगभग 10 लोग यहां चौकीदारी का काम करते हैं, जो अपना टेंट पंडाल इसी बगीचे के नीचे लगाकर परिवार समेत रहते हैं उन्होंने कहा कि गर्मी के मौसम में कहीं रोजगार नहीं मिलता ऐसे में यह उनके लिए एक बेहतर रोजगार का साधन भी है।

Read More: सफाई अभियान में जुटे मजदूरों के खाने में निकली इल्लियां, कलेक्टर निवास पहुंचकर किया जोरदार हंगामा, दी ये चेतावनी 

गांव के सरपंच ने बताया कि इस बगीचे से प्रोत्साहित होकर अब एक नया बगीचा तैयार करने की ग्रामीण सोच रहे हैं जिससे और अच्छी आमदनी हो सके। आम का बगीचा लगभग 20 एकड़ में लगा हुआ है और यहां लंगड़ा दशहरी चौसा समेत आधा दर्जन से अधिक आम की प्रजाति मौजूद है वन विभाग के अधिकारियों ने बताया कि इस आम के बगीचे को विकसित करने के लिए सभी लोगों ने मेहनत की है और आज यह पर्यावरण के प्रति एक बेहतर सोच साबित हो रहा है। यहां का आम उत्तर प्रदेश झारखंड और बिहार समेत अन्य राज्यों में सप्लाई किया जाता है।

Read More: IDBI बैंक में लगी भीषण आग, छाया धुएं का गुबार, सामने आई ये वजह 

World Environment Day 2023: विश्व पर्यावरण दिवस (World Environment Day 2023) के मौके पर पर्यावरण को संजोने और उससे आमदनी प्राप्त करने का यह शानदार प्रयास है। अरुण कुमार सोनी,आइबीसी 24,बलरामपुर। बाइट01-हरिनाथ सिंह, ग्रामीण, बाइट02-अजय कोरवा,चौकीदार,लाल टीशर्ट पहने हुए बाइट03-अरविंद कुमार,सरपँच,नीला कमीज पहने हुए बाइट04-रविशंकर श्रीवास्तव, एसडीओ फारेस्ट,काला धारीदार हाफ टीशर्ट पहने हुए। IBC24 से अरुण सोनी की रिपोर्ट

IBC24 की अन्य बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें