अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे किसान कल्याण समिति के सदस्यों ने बीजेपी का समर्थन लेने से किया इंकार, जानिए क्या है वजह

धरने पर बैठे किसान कल्याण समिति के सदस्यों ने बीजेपी का समर्थन लेने से किया इंकार! Kisan Kalyan Samiti Refuse to Take Support of BJP

Edited By: , January 14, 2022 / 11:00 PM IST

रायपुर: Kisan Kalyan Samiti  नया रायपुर में 12 दिन से अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे किसान कल्याण समिति के सदस्यों ने बीजपी नेताओं से समर्थन लेने से इनकार कर दिया। धरना का समर्थन करने पहुंचे बीजेपी किसान मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष गौरी शंकर श्रीवास को किसानों ने ये कहकर वापस कर दिया कि बीजेपी के 15 साल के शासन में भी उनकी मांगों को नजरअंदाज किया गया। किसानों का कहना है वो अपने आंदोलन में कोई राजनीति नहीं चाहते हैं।

Read More: बंदर की मौत पर ग्रामीणों ने करवाया मृत्यु भोज, भीड़ जमा करने के आरोप में पुलिस ने ​दर्ज किया मामला

Kisan Kalyan Samiti  बीजेपी नेताओं का कहना है कि किसानों के धरने में कांग्रेस नेता ही अपनी सरकार का विरोध कर रहे हैं। भाजपा ने किसानों की मांग और उनके धरने को अपना समर्थन दिया है। किसानों की प्रमुख मांग है कि सभी अर्जित भूमि के अनुपात में पात्रता अनुसार भूखंड दिया जाए, जिस भूमि का मुआवजा नहीं मिला उसपर चार गुना मुआवजा मिले, बसाहट से सटी भूमि को भू-अर्जन से मुक्त और संपूर्ण वसाहट का पट्टा दिया जाए।

Read More: लाउडस्पीकर…अजान और सियासी शोर! जल्द थमेगा सियासी शोर या गूंजेगा और ज्यादा?

इस पर कृषि मंत्री रविंद्र चौबे ने कहा कि बीजेपी नेता किस मुंह से किसानों को समर्थन देने गए थे। किसानों की सारी समस्याएं उनके कार्यकाल की है। उन्होंने कहा कि किसानों की मांगों को लेकर अफसरों के साथ बातचीत हो रही है। जल्द ही धरना समाप्त होगा।

Read More: कोरोना काल…कितना घातक साबित हो सकता है सेल्फ मेडिकेशन?