बड़ी खबर! 9.50 रुपए सस्ता हुआ पेट्रोल, डीजल की कीमतों में भी 7 रुपए की कमी, 200 रुपए कम हुए रसोई गैस के दाम

बड़ी खबर! 9.50 रुपए सस्ता हुआ पेट्रोल, डीजल की कीमतों में भी 7 रुपए की कमी! Petrol Price will Reduce 9.50 and Diesel 7 Rs in India

Edited By: , May 21, 2022 / 07:19 PM IST

नई दिल्ली: Petrol diesel Prices तेजी से बढ़ती पेट्रोल-डीजल की कीमतों के बीच मोदी सरकार ने जनता को बड़ी राहत दी है। सरकार ने द्रीय उत्पाद शुल्क 8 रुपये प्रति लीटर और डीजल पर 6 रुपये प्रति लीटर कम कर दिया है। इससे पेट्रोल की कीमत 9.5 रुपये प्रति लीटर और डीजल की कीमत 7 रुपये प्रति लीटर कम हो जाएगी। वहीं रसोई गैस की कीमतों में सरकार ने 200 रुपए कम करने का फैसला लिया है। हालांकि सरकार ने सिर्फ सिलेंडर में सिर्फ उज्ज्वला योजना के रसोई गैस के दामों में कमी की है।

Read More: अगर आप भी सिम बदलने के बाद आधार कार्ड से नहीं लिंक कर पा रहे मोबाइल नंबर, तो पढ़ें ये खबर 

Petrol diesel Prices  बता दें कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि हम पेट्रोल पर केंद्रीय उत्पाद शुल्क 8 रुपये प्रति लीटर और डीजल पर 6 रुपये प्रति लीटर कम कर रहे हैं। इससे पेट्रोल की कीमत 9.5 रुपये प्रति लीटर और डीजल की कीमत 7 रुपये प्रति लीटर कम हो जाएगी।

Read More: नर्मदा लिंक परियोजना पर लगा ग्रहण, इस राज्य की सरकार ने किया रद्द करने का फैसला, आदिवासी समुदाय लंबे समय से कर रहे थे विरोध…

ईंधन के अलावा सरकार ने महंगे गैस सिलेंडर खरीदने वालों को भी राहत दी है और उज्जवला योजना के लाभार्थियों को 200 रुपए प्रति गैस सिलेंडर की सब्सिडी देने का फैसला किया है। इसका ऐलान करते हुए निर्मला सीतारमण ने कहा, “हम प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के 9 करोड़ से अधिक लाभार्थियों को 200 रुपये प्रति गैस सिलेंडर (12 सिलेंडर तक) की सब्सिडी देंगे। इससे हमारी माताओं और बहनों को मदद मिलेगी।”

Read More: कार्तिक आर्यन ने कंगना को चटाई धूल, पहले दिन ‘भूल भुलैया 2’ ने की ‘धाकड़’ कमाई… 

निर्मला सीतारमण ने ट्वीट कर कहा है कि जब से केंद्र में पीएम मोदी की सरकार आई है हम गरीबों के कल्याण के लिए काम कर रहे हैं। हमने गरीबों और मध्यम वर्ग की मदद के लिए कुछ कदम उठाए हैं। इसका नतीजा ये निकला है कि हमारे कार्यकाल में औसत महंगाई पिछली सरकार से कम ही रही है। उन्होंने कहा है कि दुनिया इस वक्त मुश्किल वक्त से गुज़र रही है। विश्व कोरोना महामारी से उबर ही रहा था कि यूक्रेन संकट आ खड़ा हुआ, जिससे सप्लाई चेन और कई सामानों की शॉर्टेज हुई है। इसके कई देशों में महंगाई और आर्थिक संकट पैदा हुए हैं।

Read More: राज्य स्तरीय विकास प्रदर्शनी में मिल रही इन योजनाओं की अहम जानकारी