Rahul Gandhi on NEET Exam Scam: ‘भाजपा शासित राज्य पेपर लीक का एपिसेंटर बन चुके हैं..’ नीट परीक्षा में धांधली पर बोले राहुल गांधी

Rahul Gandhi on NEET Exam Scam: 'भाजपा शासित राज्य पेपर लीक का एपिसेंटर बन चुके हैं..' नीट परीक्षा में धांधली पर बोले राहुल गांधी

  •  
  • Publish Date - June 18, 2024 / 02:35 PM IST,
    Updated On - June 18, 2024 / 02:41 PM IST

Rahul Gandhi on NEET Exam Scam: देशभर में नीट परीक्षा को लेकर सियासत गरमाई हुई है। इस धांधली को लेकर कांग्रेस लगातार केंद्र सरकार पर हमला बोल रही है। वहीं, अब इस मामले पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स के माध्यम से पीएम मोदी पर जमकर निशाना साधा है।

Read More: Jitu Patwari Ki Shikayat: ‘PCC चीफ की वजह से कांग्रेस की हुई हार, नहीं बदले तो 20 सीट भी नहीं जीत पाएंगे’ पूर्व प्रवक्ता ने आलाकमान से की जीतू पटवारी की शिकायत

राहुल गांधी ने कहा, कि NEET परीक्षा में 24 लाख से अधिक छात्रों के भविष्य के साथ हुए खिलवाड़ पर भी नरेंद्र मोदी हमेशा की तरह मौन धारण किए हुए हैं। बिहार, गुजरात और हरियाणा में हुई गिरफ्तारियों से साफ है कि परीक्षा में योजनाबद्ध तरीके से संगठित भ्रष्टाचार हुआ है और ये भाजपा शासित राज्य पेपर लीक का एपिसेंटर बन चुके हैं। हमारे न्यायपत्र में पेपर लीक के विरुद्ध सख्त कानून बना कर युवाओं का भविष्य सुरक्षित करने की हमने गारंटी दी थी। विपक्ष की जिम्मेदारी निभाते हुए हम देश भर के युवाओं की आवाज सड़क से संसद तक मजबूती से उठा कर और सरकार पर दबाव डाल कर ऐसी कठोर नीतियों के निर्माण के लिए प्रतिबद्ध हैं।

Read More: Jahangir National University Trailer: JNU पर बनी फिल्म का ट्रेलर हुआ रिलीज, देखने के बाद बढ़ी दर्शको की बेसब्री 

बता दें नीट-यूजी 2024 परीक्षा में हुई गड़बड़ी की शिकायत पर सुप्रीम कोर्ट में आज सुनवाई हुई। सुनवाई के दौरान कोर्ट ने कहा कि अगर किसी की ओर से 0.001 प्रतिशत लापरवाही हुई है तो इससे पूरी तरह निपटा जाना चाहिए। इतना ही नहीं कोर्ट ने छात्रों को लेकर चिंता जाहिर की है। वहीं, सुप्रीम कोर्ट में अब इस मामले पर अगली सुनवाई 8 जुलाई को होनी है।

Read More: Sarkari Naukri: नेशनल फिटिलाइजर्स लिमिटेड में 160 से अधिक पदों पर निकली वैकेंसी, करीब 1.5 लाख मिलेगी सैलरी, देखें डिटेल्स 

दरअसल, NTA ने 5 मई को नीट परीक्षा कराई थी, लेकिन जब 4 जून को रिजल्ट जारी किया तो देशभर में हंगामा हो गया। दरअसल, परीक्षा में 67 छात्रों को 720 में से पूरे 720 अंक मिले थे। ऐसा NEET-UG के इतिहास में कभी नहीं हुआ था। परीक्षा में बैठे 1563 छात्रों को ग्रेस मार्क्स दिए गए थे। ग्रेस मार्क्स 10 या 20 नहीं बल्कि 100 से 150 दिए थे। ग्रेस मार्क्स पाए इन्हीं 67 छात्रों के पूरे 720 अंक आए थे। ग्रेस मार्क्स के चलते कई बच्चे मेरिट लिस्ट से बाहर हो गए। सरकारी मेडिकल कॉलेजों में उनका प्रवेश मुश्किल हो गया था। दिल्ली में 10 जून को बड़ी संख्या में छात्रों ने प्रदर्शन किया था। आरोप है कि ग्रेस मार्क्स के चलते 67 छात्रों ने टॉप किया है।

IBC24 की अन्य बड़ी खबरों के लिए हमारे फेसबुक फेज को भी फॉलो करें

IBC24 की अन्य बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Follow the IBC24 News channel on WhatsApp