सिविल सर्जन ने ले ली कोरोना वैक्सीन की पांच डोज, अब सरकार ने दिए जांच के आदेश

रिकॉर्ड के अनुसार पटना की सिविल सर्जन ने कोविड-19 की पांच खुराकें ली, जांच के आदेश

: , January 18, 2022 / 08:34 AM IST

पटना, 17 जनवरी (भाषा) पटना की सिविल सर्जन विभा कुमारी सिंह के कोविड-19 टीके की पांच खुराकें लिए जाने के बारे में पता चलने पर बिहार सरकार ने इसके जांच के आदेश दिए हैं।

पढ़ें-  जहरीली शराब से मरने वालों की संख्या 11 पहुंची.. और बढ़ सकती है मृतकों की संख्या

हालांकि, सिविल सर्जन डॉ विभा कुमारी सिंह ने अतिरिक्त खुराक लेने का खंडन करते हुए मामले की जांच में तथ्यों के सामने आने पर कड़ी कार्रवाई करने को कहा है। सिविल सर्जन कहा कि उन्होंने अपने आधार नंबर के माध्यम से कोविशील्ड टीके की दो निर्धारित खुराक एवं नियम के अनुसार एक ‘एहतियाती’ खुराक ली है।

पढ़ें- पूर्व विधायक सुखदेव प्रसाद का निधन.. पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के सहयोगी और जनसंघ के विधायक भी रहे 

उन्होंने कहा कि आधार नंबर के अलावा किसी भी अन्य पहचान-पत्र का प्रयोग उनके स्तर से नहीं किया गया है। साथ ही कहा, “मेरे अन्य पहचान-पत्र का दुरुपयोग जिस स्तर से भी हुआ है, उसकी पहचान कर कड़ी कार्रवाई की जाए। किसी और ने पैन कार्ड के विवरण का उपयोग करके टीका लिया था।”

पढ़ें- पाकिस्तान की ‘लेडी अलकायदा’ आफिया सिद्दीकी? रिहाई के लिए US में 4 लोग बनाए गए बंधक

कोविन पोर्टल के अनुसार, उन्होंने 28 जनवरी, 2021 को टीके की पहली खुराक ली और 12 मार्च, 2021 को दूसरी खुराक के लिए पंजीकरण कराया। मार्च, 2021 तक उनका टीकाकरण पूर्ण हो चुका था।

पढ़ें- एयरपोर्ट के वरिष्ठ अफसर पर यौन हमले का केस दर्ज, महिला कर्मचारी ने लगाए गंभीर आरोप

सरकारी रिकॉर्ड के मुताबिक, उन्होंने पैन कार्ड का इस्तेमाल करते हुए दो और तारीखों में तीसरी और चौथी बार खुराक ली। 13 जनवरी, 2022 को उन्हें पांचवीं बार ‘एहतियाती’ खुराक मिली। पटना के जिलाधिकारी चंद्रशेखर सिंह ने कहा, ‘प्रशासन ने जांच शुरू कर दी है। दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।’

पढ़ें- साइकिल चला रहे दो लड़के कुएं में जा गिरे.. दोनों की मौत