राजस्थान को आठ दिनों में मिली कोयले की 166 रैक, सूरतगढ़ संयंत्र की एक और इकाई से उत्पादन शुरू

राजस्थान को आठ दिनों में मिली कोयले की 166 रैक, सूरतगढ़ संयंत्र की एक और इकाई से उत्पादन शुरू

Edited By: , October 16, 2021 / 10:12 PM IST

जयपुर, 16 अक्टूबर (भाषा) राजस्थान को बीते आठ दिनों में कोयले की 166 रैक भेजी गई हैं जबकि सूरतगढ़ तापीय बिजलीघर की एक और इकाई ने को फिर से बिजली उत्पादन शुरू कर दिया है।

अतिरिक्त मुख्य सचिव (ऊर्जा) डॉ. सुबोध अग्रवाल ने बताया कि राज्य में शुक्रवार को जहां बिजली कमी के कारण शहरी और ग्रामीण क्षेत्र में कहीं भी बिजली की कटौती नहीं करनी पड़ी वहीं सूरतगढ़ में एक और इकाई में फिर से उत्पादन शुरू हो गया है।

अग्रवाल ने बताया कि राज्य में कोयला की आपूर्ति में कमी और बिजली संकट के बीच राज्य सरकार के प्रयासों से लगातार स्थिति में सुधार आया है और 6 अक्टूबर से लेकर 15 अक्टूबर तक राज्य में कोल इंडिया की अनुषंगी कंपनियों एनसीएल और एसईसीएल से जहां 65 रैक कोयला की डिस्पैच होकर मिलीं वहीं राज्य सरकार की कंपनी पीकेसीएल से कोयले की 101 रैक डिस्पैच हुई हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की उच्चस्तरीय पहल और समग्र प्रयासों से यह संभव हो पाया है।

अग्रवाल ने बताया कि राज्य में बंद तापीय इकाइयों में भी प्राथमिकता से उत्पादन फिर शुरू किया जा रहा है और पिछले आठ दिनों में चार इकाइयों में करीब 1700 मेगावाट विद्युत उत्पादन शुरू किया गया है। उन्होंने बताया कि सूरतगढ में 250 मेगावाट विद्युत उत्पादन क्षमता की इकाई में उत्पादन शुरू हो गया हैं वहीं इससे पहले कालीसिंध तापीय में 600 मेगावाट, कोटा तापीय विद्युत गृह में 195 और सूरतगढ़ तानीय विद्युत गृह में यूनिट 6 में 660 मेगावाट का उत्पादन शुरू हो गया।

भाषा पृथ्वी कृष्ण

कृष्ण