एनएचए ने डिजिटल स्वास्थ्य पारिस्थितिकी तंत्र को और मजबूत करने को लेकर चर्चा की

एनएचए ने डिजिटल स्वास्थ्य पारिस्थितिकी तंत्र को और मजबूत करने को लेकर चर्चा की

: , May 13, 2022 / 11:25 PM IST

नयी दिल्ली, 13 मई (भाषा) आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन (एबीडीएम) के प्रौद्योगिकी भागीदारों के सम्मेलन में शुक्रवार को यहां देश के डिजिटल स्वास्थ्य पारिस्थितिकी तंत्र को और मजबूत करने के तरीकों पर चर्चा हुई।

स्वास्थ्य मंत्रालय के बयान के अनुसार, राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण (एनएचए) द्वारा आयोजित सम्मेलन में 40 से अधिक सार्वजनिक और निजी स्वास्थ्य प्रौद्योगिकी संगठनों ने भाग लिया।

सम्मेलन को संबोधित करते हुए एनएचए के मुख्य कार्यकारी अधिकारी आर एस शर्मा ने कहा कि एबीडीएम का मुख्य उद्देश्य देश के दूरस्थ क्षेत्रों में स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करने के लिए प्रौद्योगिकी का लाभ उठाना है।

डॉ. शर्मा ने स्वास्थ्य प्रौद्योगिकी संगठनों से डिजिटल सार्वजनिक वस्तुओं के निर्माण और ऑनलाइन आरक्षण प्रणाली (ओआरएस) रोगी पोर्टल, ब्लड बैंक और सार्वभौमिक टीकाकरण के दायरे का विस्तार करने के लिए पारिस्थितिकी तंत्र को सक्रिय करने के बारे में भी सुझाव मांगे।

भाषा शफीक नेत्रपाल

नेत्रपाल

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)