बाढ़ के बाद अब केरल ‘रैट फीवर’ की चपेट में, 14 दिन में 43 मौतें | Rat Fever In Kerala :

बाढ़ के बाद अब केरल ‘रैट फीवर’ की चपेट में, 14 दिन में 43 मौतें

बाढ़ के बाद अब केरल ‘रैट फीवर’ की चपेट में, 14 दिन में 43 मौतें

: , March 9, 2021 / 09:14 PM IST

नई दिल्ली। केरल बाढ़ के बाद अब बीमारियों की चपेट में है। इसमें भी सबसे बड़ी चुनौती के रुप में सामने आया है ‘रैट फीवर या लेप्टोपाइरोसिस। सिर्फ 14 दिन यानि 20 अगस्त से अब तक इस रैट फीवर के कारण 43 लोगों की मौत हो चुकी है। सिर्फ़ रविवार को ही इस बीमारी के चलते 10 लोगों की मौत हो गई। हालात इतने चिंताजनक बन गए हैं कि राज्य के 13 जिलों में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है सिवाय कासरगोड जिले को छोड़कर।

रैट फीवर पीड़ित मरीजों की संख्या में वृद्धि होती जा रही है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के मुताबिक करीब 350 लोगों में रैट फीवर की शिकायत मिली है। इन सभी का इलाज राज्य के अलग-अलग हिस्सों में जारी है। पिछले सिर्फ पांच दिनों में इनमें से 150 मामले पॉजीटिव निकले हैं। इस बीमारी के अधिकांश केस कोझीकोड और मलप्पुरम जिलों के हैं।

यह भी पढ़ें : केंद्र कर रहा सफाई का दावा,उधर वर्ल्ड वाइल्डलाइफ फंड की रिपोर्ट- गंगा दुनिया की सबसे संकटग्रस्त नदी

इस बारे में केरल की स्वास्थ्य मंत्री केके शैलजा ने कहा है कि राज्य सरकार सभी जरुरी और एहतियाती कदम उठा रही है। उन्होंने बाढ़ के पानी के संपर्क में आने वाले लोगों से अपील की है कि वह अतिरिक्त सावधानी बरतें। इसके अलावा सफाई के काम में लगे लोगों से डॉक्सीसाइलिनकी खुराक लेने को कहा गया है।

सरकार ने लोगों से बिना डॉक्टर की सलाह के खुद दवा लेने से मना किया है। सरकार ने कहा है कि घबराने की कोई जरूरत नहीं है, प्रत्येक अस्पताल में सभी जरूरी दवाओं का भंडार है। बता दें कि मुख्यमंत्री पिनराई विजयन इलाज के लिए अमेरिका गए हुए हैं। उनकी अनुपस्थिति में में उद्योग मंत्री ई पी जयराजन मुख्यमंत्री आपदा राहत कोष का कामकाज संभाल रहे हैं।

वेब डेस्क, IBC24

 

#HarGharTiranga