औवेसी के बयान पर तेलंगाना भाजपा नेता ने आपत्ति जतायी

औवेसी के बयान पर तेलंगाना भाजपा नेता ने आपत्ति जतायी

Edited By: , October 14, 2021 / 08:37 PM IST

हैदराबाद, 14 अक्टूबर (भाषा) तेलंगाना में भाजपा नेता एनवी सुभाष ने एआईएमआईएम अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी की उस टिप्पणी पर आपत्ति जतायी है, जिसमें उन्होंने कहा था कि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राज्य) सरकार महात्मा गांधी को हटाकर वीडी सावरकर को राष्ट्रपिता के रूप में नामित कर देगी।

सुभाष ने बृहस्पतिवार को आरोप लगाया कि यह राज्य में सत्तारूढ़ टीआरएस के साथ ”मिलीभगत” के तहत तेलंगाना के इतिहास को ”विकृत” करने के औवेसी के प्रयास का हिस्सा है।

पूर्व प्रधानमंत्री पी वी नरसिंह राव के पोते सुभाष ने एक बयान में कहा, ”वह (ओवैसी) हमेशा मोदी जी, योगी जी, आरएसएस, बीजेपी, मोहन भागवत जी, राजनाथ सिंह जी की आलोचना करते हैं और अब महात्मा गांधी और वीर सावरकर के बारे में बात कर रहे हैं और इसी से उनकी रोजी-रोटी चल रही है।”

उन्होंने दावा किया कि ओवैसी ने ”मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव के साथ मिलकर” तेलंगाना के इतिहास को विकृत किया, जिसके परिणामस्वरूप तेलंगाना के लोग 17 सितंबर को ‘तेलंगाना मुक्ति दिवस’ नहीं मना पाए।

तेलंगाना में भाजपा की मांग है कि राज्य सरकार 17 सितंबर (जिस दिन हैदराबाद की तत्कालीन रियासत का 1948 में भारतीय संघ में विलय किया गया था) को सरकारी कार्यक्रम आयोजित किया करे।

सुभाष ने कहा कि हजारों लोगों ने निजाम शासन से तेलंगाना की ”मुक्ति” के लिए अपने जीवन का बलिदान दिया।

सुभाष ने दावा किया कि ओवैसी को तेलंगाना के लोगों को जवाब देना चाहिए कि राज्य में आधिकारिक तौर पर ‘तेलंगाना मुक्ति दिवस’ क्यों नहीं मनाया जा रहा है और यह तेलंगाना के इतिहास को विकृत करने का उनका प्रयास है।

आरएसएस और भाजपा द्वारा सावरकर की सराहना किये जाने की आलोचना करते हुए ओवैसी ने बुधवार को दावा किया था कि संसद में सावरकर की तस्वीर लगाकर वे यह संदेश दे रहे हैं कि महात्मा गांधी राष्ट्रपिता नहीं रहेंगे और सावरकर उनकी जगह लेंगे।

भाषा जोहेब नरेश

नरेश