भोपाल में फिर गैंगरेप, इस बार 13 साल की मासूम से हैवानियत

Reported By: Aman Verma, Edited By: Aman Verma

Published on 07 Nov 2017 05:27 PM, Updated On 07 Nov 2017 05:27 PM

भोपाल। पीएससी की कोचिंग कर रही 19 साल की लड़की से गैंगरेप के बाद भी भोपाल पुलिस का रवैया ठीक नहीं हो सका है। 3 नवंबर को भोपाल स्टेशन पर मिली गैंग रेप की शिकार 13 साल की बच्ची के मामले में केस दर्ज करने के बजाए जीआरपी भोपाल ने मामला रेलवे चाइल्ड लाइन को सौंप देना मुनासिब समझा। पीड़िता चार महीने की गर्भवती है, बाल कल्याण समिति को दिए अपने बयान में पीड़िता ने कहा है कि उसके साथ 4 से 5 लड़कों ने बलात्कार किया है। पुलिस के रवैये से नाराज महिला बाल विकास मंत्री अर्चना चिटनिस ने डीजीपी ऋषि शुक्ला को ही तलब कर लिया। बैठक में रेप के बढ़ते मामलों पर फटकार भी लगाई। डीजीपी ऋषि शुक्ला बैठक से निकले तो बेबस नजर आए, ऋषि शुक्ला ने पत्रकारों के सवालों पर हाथ भी जोड़ लिया। अर्चना चिटनिस ने कहा कि पीड़िता को हर मुमकिन मदद सरकार देगी। 

भोपाल गैंगरेप का चौथा आरोपी गिरफ्तार, आक्रोशित युवाओं ने निकाली रैली

31 अक्टूबर की रात को हुए गैंगरेप की घटना के तीन दिन बाद दूसरे गैंग रेप की खबर ने पुलिस महकमे की नींद उड़ा दी है। 13 साल की बच्ची के साथ गैंगरेप की खबर आईबीसी 24 पर देखने के बाद आनन फानन में पुलिस मुख्यालय के अफसर ही पीड़िता से मिलने सरकारी बालिका गृह पहुंच गए। महिला अपराध शाखा की एडीजी अरुणा मोहन राव, डीआईजी सुधीर लाड़ और रेल एसपी रुची वर्धन ने पीड़िता से घंटों बात की...अफसरों ने पीड़िता से बात करने के बाद जीरो पर मामला भी दर्ज कर लिया है। रेल एसपी रुचि वर्धन ने आईबीसी 24 को बताया कि पीड़िता जबलपुर की रहने वाली है जो पिछले 1 साल से घर से बाहर है, रुचि वर्धन के मुताबिक भोपाल रेलवे स्टेशन इलाके में ही बच्ची के साथ रेप हुआ है, जिसके आरोपियों की तलाश पुलिस तेजी से कर रही है। 

मध्यप्रदेश में महिला से अमानवीयता, पति को कंधों पर बिठाकर पूरे गांव में घुमवाया

महिला सुरक्षा को लेकर मध्यप्रदेश सरकार के लाख दावों की हवा उन्हीं के अधिकारी मिनटों में निकाल देते हैं...31 अक्टूबर की रात पीएसएसी कोचिंग स्टूडेंट का मामला ठंडा भी नहीं हुआ था कि ठीक 3 दिन बाद दूसरे गैंग रेप का मामला सामने आ गया। पुलिस ने पहली घटना पर देशभर में हुए हंगामे के बावजूद सबक नहीं लिया और 13 साल की पीड़िता दर दर भटकती रही। आखिरकार उसे सरकारी ठिकाना मिला...और अब जाकर सनसनीखेज गैंगरेप मामले में एफआईआर दर्ज हुई है। उम्मीद है कि गैंगरेप की शिकार भोपाल की दूसरी निर्भया को भी जल्द इंसाफ मिलेगा।

वेब डेस्क, IBC24

Web Title : Another gangrape in Bhopal, this time the victim is a thirteen year old minor

जरूर देखिये