जहां सबसे पहले बनी थी ‘आग’, वहां फिर लग गई आग

Reported By: Pushpraj Sisodiya, Edited By: Pushpraj Sisodiya

Published on 16 Sep 2017 05:08 PM, Updated On 16 Sep 2017 05:08 PM


ग्रेट शो मैन के नाम से विख्यात फिल्मकार राजकपूर द्वारा स्थापित आर के स्टूडियो में आग लगने से अफरा-तफरी फैल गई। आर के स्टूडियो में टेलीविज़न शो सुपर डांसर के सेट पर ये आग लगी, जिसपर काबू पाने के लिए फायर ब्रिग्रेड की 6 गाड़ियां लगानी पड़ी। इस आग से स्टूडियो में रखे सजावट के सामानों के साथ-साथ इलेक्ट्रिक वायरिंग को भी नुकसान पहुंचा है। इसी स्टूडियो में जून महीने में भी आग लग गई थी, उस वक्त वहां फिल्म भूमि का फिल्मांकन चल रहा था, जिसके गाने की शूटिंग एक्ट्रेस अदिति राव हैदरी कर रही थीं, तभी सेट पर आग लगी थी। 

प्रेग्नेंसी के बाद शादी करने की अफवाह पर पहली बार बोली रिया सेन... कहा मुझे...

आर के स्टूडियो की स्थापना भारत की आज़ादी के अगले वर्ष यानी 1948 में राज कपूर ने मुंबई के चेंबूर में की थी। संयोग की बात है कि इस स्टूडियो में बनने वाली पहली फिल्म का नाम भी आग था, जो बॉक्स ऑफिस पर फ्लॉप रही थी, ये फिल्म 1948 यानी स्टूडियो बनने के साल ही बनी थी। इसके अगले साल आर के स्टूडियो प्रोडक्शंस की फिल्म बरसात आई, जिसने बॉक्स ऑफिस पर धमाका कर दिया। इस फिल्म की सफलता के बाद आर के स्टूडियो का लोगो बदला गया था। आर के स्टूडियो में बनी फिल्मों ने राजकपूर और नरगिस की जोड़ी को भारतीय सिनेमा की हिट जोड़ियों में से एक बनाया और एक के बाद एक 15 फिल्में बनीं, जिनमें आवारा, श्री 420, बूट पॉलिश, जागते रहो चर्चित रहीं। 1985 में बनी फिल्म राम तेरी गंगा मैली राजकपूर की आखिरी फिल्म थी, लेकिन आर के स्टूडियो के बैनर तले हीना, प्रेम ग्रंथ, आ अब लौट चलें जैसी फिल्में बाद में भी बनीं।

Web Title : fire in RK studio

जरूर देखिये