सरगुजा का संग्राम, बीजेपी या कांग्रेस ? किसकी होगी विजय किसको मिलेगी हार, देखिए कांटे की टक्कर

 Edited By: Arjun Bartwal

Published on 14 Apr 2019 03:47 PM, Updated On 14 Apr 2019 07:06 PM

रायपुर| ‘कांटे की टक्कर’ कार्यक्रम के माध्यम से IBC24  अलग-अलग लोकसभा क्षेत्रों में प्रत्याशियों के बीच के टकराव का आंकलन कर रहा है। आप हमारे इस कार्यक्रम में देख पाएंगे कि आखिर अपने-अपने लोकसभा क्षेत्रों में प्रत्याशियों की चुनाव जीतने को लेकर तैयारियां कैसी हैं। साथ ही हम क्षेत्र के सियासी माहौल और अभी तक के राजनीतिक इतिहास पर भी नजर डालेंगे।

सरगुजा लोकसभा सीट

कांटे की टक्कर में अब बारी है छत्तीसगढ़ की सरगुजा लोकसभा सीट की। पिछले 15 सालों से ये सीट भाजपा की पाले में है। बता दें कि सरगुजा लोकसभा सीट अनुसूचित जाती के लिए आरक्षित है। इस सीट पर लागातार 4 बार से बीजेपी के ही पाले में है। इस सीट पर वर्तमान सांसद कमलभान सिंह मराबी हैं, हालांकि इसबार बीजेपी ने उन्को मौका नहीं दिया है, और एक नए चेहरे पर दांव खेला है। इस सीट पर 15 लाख 23 हजार मतदाता प्रत्य़ाशियों की किस्मत तय करते हैं। आदिवासी बाहुल्य सरगुजा में पांच जिले सरगुजा, जशपुर, कोरिया, बलरामपुर और सूरजपुर आते हैं। इसमें विधानसभा की 8  सीटों में से पांच विधानसभा सीट अनुसूचित जनजाति के लिए आरक्षित हैं। जिनमें प्रेमनगर, भाटगांव, प्रतापपुर(एसटी), रामानुजगंज(एसटी), सामरी(एसटी), लुंड्रा(एसटी), अंबिकापुर, सीतापुर(एसटी) शामिल हैं।

भाजपा प्रत्याशी रेणुका सिंह

लोकसभा चुनाव 2019 में सरगुजा की जंग जीतने के लिए बीजेपी नए चेहरे रेणुका सिंह को मौका दिया है।  बीजेपी प्रत्याशी रेणुका सिंह ने राजनीतिक जीवन की शुरुआत जनपद सदस्य के रूप में निर्वाचित होकर की थी। वर्ष 2003 में हुए विधानसभा चुनाव में उन्होंने जोगी सरकार के मंत्री तुलेश्वर सिंह को हराया और विधायक बनने के साथ रमन सरकार के पहले कार्यकाल में महिला एवं बाल विकास राज्यमंत्री बनीं। वर्ष 2005 से 2008 तक वे सरगुजा विकास प्राधिकरण की उपाध्यक्ष रहीं। वही, रेणुका सिंह एक बार फिरसे 2008 में विधानसभा चुनाव में विजय हुई और  तो उन्हें फिर से सरगुजा विकास प्राधिकरण का उपाध्यक्ष बनाया गया और वे 2013 तक सविप्रा उपाध्यक्ष रहीं। रेणुका सिंह को खेलसाय सिंह ने 2013 विधानसभा चुनाव में लगभग 18 हजार मतों के बड़े अंतर से हराया था। 2013 के विधानसभा चुनाव के बाद 2019 के लोकसभा चुनाव में खेलसाय सिंह एवं रेणुका सिंह फिर से आमने सामने हैं।

कांग्रेस प्रत्याशी खेलसाय सिंह

कांग्रेस ने सरगुजा लोकसभा सीट से वर्तमान विधायक और तीन बार के सांसद रहे खेलसाय सिंह को मैदान में उतारा है। खेलसाय वर्तमान में प्रेरमनगर विधानसभा क्षेत्र से निर्वाचित विधायक हैं।  1990 में खेल साय सिंह सूरजपुर की एसटी आरक्षित सीट से विधानसभा चुनाव जीता। बता दें कि खेलसाय सिंह ने 2013 में जब बीजेपी की सरकार बनी थी, उस समय बीजेपी प्रत्याशी रेणुका को हराया। वहीं, एकबार फिर लोकसभा में रेणुका सिंह और खेलसाय के बीच कांटे की टक्कर है।

2014 के चुनावों में सरगुजा सीट की स्थिति

कमलभान सिंह मराबी        बीजेपी     585336    49.29

राम देव राम                  कांग्रेस     438100    36.90

2014 में लोकसभा चुनाव में सरगुजा सीट पर पुरुष मतदाताओं की संख्या 771,303 थी, जिनमें से कुछ 610,877 मतदाताओं ने अपने मदताधिकार का प्रयाग किया। वही, 751,769 महिला वोटर्स में से 576,444 महिला वोटर्स ने भाग लिया था। इस तरह कुल 1,523,072 मतदाताओं में से कुल 1,187,321 मतदाताओं ने मतदान किया।
 
लोकसभा चुनाव को लेकर क्या सोचता है सरगुजा ? कैसी हैं प्रत्याशियों की चुनाव जीतने को लेकर तैयारियां, जानने के लिए देखिए वीडियो

Web Title : LokSabha Elections 2019 : Kante Ki Takkar, Surguja lok sabha Constituency

जरूर देखिये