8 जुलाई तक स्कूल प्रवेश उत्सव का आयोजन, आसपास के बच्चों को खोजकर उन्हें पढ़ाने की पहल

 Edited By: Vivek Mishra

Published on 25 Jun 2019 06:58 AM, Updated On 25 Jun 2019 06:58 AM

रायपुर। प्रदेश के सभी स्कूल सोमवार से शुरू होने से स्कूलों में रौनक लौट आई है। स्कूल शिक्षा विभाग ने सभी जिला कलेक्टरों, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों, जिला शिक्षा अधिकारियों, और स्कूल के प्राचार्यों को शाला प्रवेश उत्सव के आयोजन के संबंध में निर्देश जारी किए गए हैं।

ये भी पढ़ें: बाल शिक्षा अधिकार अधिनियम, निजी स्कूलों में 8वीं के छात्रों को उसी स्कूल में मिलेगी 12वीं तक 

बता दे कि स्कूल शाला प्रवेश उत्सव व्यापक प्रचार-प्रसार के साथ 8 जुलाई तक आयोजित करने और 9 जुलाई से कक्षाओं में नियमित अध्ययन शुरू करने के लिए कहा गया है। स्कूल में प्रवेश लेने वाले बच्चों को सोमवार को तिलक लगाकर और चॉकलेट खिलाकर स्वागत किया गया।

ये भी पढ़ें: मंत्री अकबर ने झांझ और सेंध जलाशय का किया निरीक्षण, निर्माण गुणवत्ता खराब होने 

वहीं स्कूल में प्रवेश से पहले सभी स्कूल में बच्चों के माताओं को बच्चों का स्कूल में प्रवेश से लेकर नियमित उपस्थिति एवं घर में सहयोग देने के लिए कुछ महत्वपूर्ण टिप्स दिए गए। स्कूल के आसपास पढ़ने योग्य आयु वर्ग के बच्चों को खोजकर शाला में प्रवेश दिलाए जाने की पहल शुरू की गई है।

Web Title : Organizing school entrance festivities by July 8, finding the children around and learning to initiate them

जरूर देखिये