चेश्मी और रजाइयां के गोल, ईरान ने वेल्स को 2 . 0 से हराया |

चेश्मी और रजाइयां के गोल, ईरान ने वेल्स को 2 . 0 से हराया

चेश्मी और रजाइयां के गोल, ईरान ने वेल्स को 2 . 0 से हराया

: , November 29, 2022 / 08:29 PM IST

अल रेयान ( कतर ) , 25 नवंबर ( एपी ) राउजबेह चेश्मी ने स्टॉपेज टाइम के आठवें मिनट में गोल करके ईरान को विश्व कप फुटबॉल में शुक्रवार को वेल्स पर 2 . 0 से जीत दिलाई ।

चेश्मी के शॉट को वेल्स के बैकअप गोलकीपर डैनी वार्ड डाइव लगाकर भी नहीं बचा सके । नियमित गोलकीपर वेन हेनेसी को 86वें मिनट में बाहर किये जाने पर डैनी गोलकीपिंग कर रहे थे ।

रामिन रजाइयां ने कुछ पल बाद ही दूसरा गोल दागा और ईरान के खिलाड़ी जश्न मनाने लगे जबकि वेल्स के खिलाड़ी इस पर भरोसा ही नहीं कर पा रहे थे।

हेनेसी को ईरान के स्ट्राइकर मेहदी तारेमी को पैर से खतरनाक तरीके से बॉक्स के बाहर रोकने के लिये लाल कार्ड दिखाया गया।

वेल्स के लिये जेरेथ बेल का यह 110वां मैच था जो राष्ट्रीय टीम के लिये सर्वाधिक मैच खेलने वाले खिलाड़ी बने । ग्रुप बी में अपने पहले मैच में वेल्स को अमेरिका ने 1 . 1 से ड्रॉ पर रोका था ।

ईरान को अपने शुरूआती मैच में इंग्लैंड से 2-6 से हार का सामना करना पड़ा था, लेकिन टीम ने वेल्स के खिलाफ काफी बेहतर खेल दिखाया।

मैच से पहले स्टेडियम के बाहर सरकार के समर्थक प्रशंसकों ने सरकार विरोधी फुटबॉलप्रेमियों को परेशान किया ।

वेल्स की टीम विश्व कप में दूसरी बार जगह बनायी है, पहली बार वह 1958 में फीफा महासमर में खेली थी।

बेल राष्ट्रीय टीम के लिये अब भी 41 गोल पर बरकरार हैं जबकि वह साथी क्रिस गंटर (109) को पछाड़कर टीम के लिये सर्वाधिक मैच खेलने वाले खिलाड़ी बने।

ईरान के गोलकीपर अली बेरानवाद इंग्लैंड के खिलाफ मैच में ‘कनकशन’ (सिर में चोट) के कारण इस मैच में नहीं खेल पाये। हुसैन होसेनी को उनकी जगह इस मैच में खिलाया गया।

पिछले दो विश्व कप में क्वालीफाई करने वाली ईरान की टीम कभी भी नॉकआउट चरण तक नहीं पहुंच पायी है।

इस जीत से ईरान के दो मैचों में तीन अंक हो गये हैं जबकि वेल्स का केवल एक ही अंक है।

ईरान की टीम कतर में पहुंचने के बाद से ही देश में चल रही अशांति संबंधित सवालों से घिरी हुई है। खिलाड़ियों ने प्रदर्शनकारियों के साथ एकजुटता दिखने के लिये पहले मैच में राष्ट्रगान भी नहीं गाया था। लेकिन शुक्रवार को उन्होंने एक दूसरे के कंधों पर हाथ रखकर राष्ट्रगान गाया।

दोनों टीमें कभी भी विश्व कप में एक दूसरे के आमने सामने नहीं हुई हैं। वेल्स ने 1978 में उसके खिलाफ एकमात्र मैत्री मैच में 1-0 से जीत हासिल की थी।

एपी नमिता मोना

मोना

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)