सरकार की पोल खुल गई है, मंत्रियों-अधिकारियों के बीच बंदर-बांट के लिए खींचतान चल रही है: अखिलेश |

सरकार की पोल खुल गई है, मंत्रियों-अधिकारियों के बीच बंदर-बांट के लिए खींचतान चल रही है: अखिलेश

सरकार की पोल खुल गई है, मंत्रियों-अधिकारियों के बीच बंदर-बांट के लिए खींचतान चल रही है: अखिलेश

: , July 21, 2022 / 09:20 PM IST

लखनऊ, 21 जुलाई (भाषा) समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बृहस्पतिवार को भाजपा सरकार पर हमला करते हुए दावा किया ‘‘सरकार की पोल खुल गई है और मंत्रियों-अधिकारियों के बीच बंदर-बांट के लिए खींचतान चल रही है।’’

इस्तीफे की पेशकश करने वाले राज्य मंत्री दिनेश खटीक का संदर्भ देते हुए सपा प्रमुख ने कहा कि ‘‘सरकार के मंत्री, अधिकारी मिलकर जनता को लूट रहे हैं। सरकारी विभागों में तबादलों और नियुक्तियों में बड़े पैमाने पर लूट मची हैं। सरकार के भ्रष्टाचार की चर्चा हर जुबान पर है। यह सब तो सिर्फ 100 दिन की ही उपलब्धि है। आगे-आगे देखते रहिये होता है क्या?’’

उन्होंने आरोप लगाया कि लोक निर्माण विभाग, स्वास्थ्य विभाग और जल शक्ति विभाग सहित अन्य विभागों में भी तबादलों का धंधा भाजपा सरकार में एक बड़ा उद्योग बन गया है।

अखिलेश यादव ने कहा कि ‘‘जांच की आंच बड़े-बड़े लोगों तक पहुंचने पर भाजपा सरकार लीपापोती करने में लग गई है। खुद भाजपा सरकार के एक मंत्री ने तबादलों में वसूली, और भ्रष्टाचार को सार्वजनिक रूप से उजागर करते हुए इस्तीफा दिया है।’’

उन्होंने ने दावा किया कि स्वास्थ्य विभाग में भी तबादलों के धंधे के साथ करोड़ों रूपये की दवाओं में हेराफेरी के मामले सामने आए हैं। विभाग में मंत्री और विभागीय प्रमुख के बीच खींचतान के चलते अव्यवस्था व्याप्त है।

सपा प्रमुख ने आरोप लगाया कि पशुपालन विभाग में करोड़ो रूपये की दवाएं एवं उपकरण खरीद के नए घोटाले सामने आए हैं।आवास विकास परिषद और शिक्षा विभाग में भी धांधलियां उजागर हुई है।

उन्होंने आरोप लगाया कि ‘‘भाजपा सरकार घोटालों के नए-नए कीर्तिमान बनाने में भी अव्वल साबित हुई है। होम्योपैथिक विभाग में छात्रवृत्ति गबन, दारोगा भर्ती में बड़े पैमाने पर अनियमितताओं ने भाजपा सरकार की छवि दागदार बना दी है।’’

अखिलेश यादव के मुताबिक सरकार में बड़े ओहदों पर बैठे अफसर घोटालों की जांच में कम उन्हें रफादफा करने में ज्यादा रुचि ले रहे हैं।

भाषा जफर धीरज

धीरज

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

#HarGharTiranga