संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में सुधार पर अंतर सरकारी वार्ता प्रभावी नहीं: जी4 देश |

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में सुधार पर अंतर सरकारी वार्ता प्रभावी नहीं: जी4 देश

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में सुधार पर अंतर सरकारी वार्ता प्रभावी नहीं: जी4 देश

: , September 23, 2022 / 01:52 PM IST

न्यूयॉर्क, 23 सितंबर (भाषा) भारत, ब्राजील, जर्मनी और जापान के समूह ‘जी4’ ने कहा है कि सुरक्षा परिषद में सुधार को लेकर अंतर सरकारी वार्ता खुली तथा पारदर्शी नहीं होने के कारण प्रभावी नहीं है।

‘जी4’ देशों ने इस प्रक्रिया को बाधित करने के समन्वित प्रयासों पर अप्रसन्नता जताई।

ब्राजील के विदेश मंत्री कार्लोस एलबर्टो, जर्मनी की संघीय विदेश मंत्री एनालेना बारबॉक, विदेश मंत्री एस जयशंकर, जापान के विदेश मंत्री योशिमासा हयाशी ने संयुक्त राष्ट्र महासभा के 77 वें सत्र से पहले संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में सुधार पर चर्चा के लिए मुलाकात की।

इन नेताओं ने अंतर सरकारी वार्ता (आईजीएन) प्रक्रिया की धीमी गति पर चिंता जताई, साथ ही सुधार के पक्षधर सभी सदस्य देशों के साथ बातचीत तेज करने का निर्णय लिया।

‘जी4’ मंत्रियों ने एक-दूसरे की उम्मीदवारी को समर्थन देने की बात दोहराई।

इस संबंध में बृहस्पतिवार को एक बयान जारी किया गया जिसमें कहा गया कि संयुक्त राष्ट्र महासभा के 76वें सत्र के कामकाज की समीक्षा करते हुए मंत्रियों ने आईजीएन में सुरक्षा परिषद में सुधार के बारे में सार्थक प्रगति नहीं होने पर चिंता जताई।

‘जी4’ मंत्रियों ने कहा कि 76वें सत्र ने पुन: यह स्पष्ट कर दिया है कि आईजीएन खुला तथा पारदर्शी नहीं होने के कारण प्रभावी साबित नहीं हो पा रहा है।

एपी

शोभना मनीषा

मनीषा

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)