वेनेजुएला ने मादुरो के सहयोगी को अमेरिका प्रत्यर्पित किए जाने के बाद वार्ता रोकी

वेनेजुएला ने मादुरो के सहयोगी को अमेरिका प्रत्यर्पित किए जाने के बाद वार्ता रोकी

Edited By: , October 17, 2021 / 08:49 AM IST

मियामी, 17 अक्टूबर (एपी) वेनेजुएला सरकार ने शनिवार को कहा कि वह राष्ट्रपति निकोलस मादुरो के एक करीबी सहयोगी को अमेरिका प्रत्यर्पित करने पर बदले की कार्रवाई करते हुए देश के विपक्ष के साथ बातचीत रोकेगी। मादुरो के इस करीबी सहयोगी पर धन शोधन के आरोप हैं।

अगस्त में शुरू हुई वार्ता में सरकार के प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व कर रहे जॉर्ज रोड्रिगेज ने कहा कि उनका दल अमेरिका समर्थित विपक्षियों से अगले दौर की बातचीत के लिए मेक्सिको सिटी नहीं जाएगा। हालांकि उन्होंने यह नहीं कहा कि सरकार बातचीत को पूरी तरह से छोड़ रही है।

यह घोषणा तब की गयी है जब कुछ घंटों पहले कारोबारी एलेक्स साब को केप वर्दे में अमेरिका जाने वाले एक विमान में ले जा गया। वह मियामी में धन शोधन के आरोपों का सामना करने के वास्ते अपने प्रत्यर्पण को रोकने के लिए 16 महीने से चल रही लड़ाई हार गए थे।

साब को ईरान जाने के रास्ते में अफ्रीका द्वीपसमूह में गिरफ्तार किया गया। रोड्रिगेज ने साब की गिरफ्तारी को अमेरिका का गैरकानूनी ‘‘हमला’’ बताया। उन्होंने कहा कि अमेरिका वर्षों से मादुरो को हटाने की कोशिश में लगा हुआ है।

वहीं, वेनेजुएला के सुरक्षा बलों ने शनिवार को अमेरिका की तेल कंपनी में काम करने वाले छह कर्मचारी को गिरफ्तार कर लिया जो राजनीति से प्रेरित एक अन्य मामले में घर में नजरबंद थे। इन सभी कर्मचारियों को भ्रष्टाचार के एक मामले में पिछले साल दोषी ठहराया गया और जेल की लंबी सजा सुनाई गयी थी। अभी यह स्पष्ट नहीं है कि क्या उन्हें जेल ले जाया जा रहा है।

साब को अमेरिका प्रत्यर्पित करने से दोनों देशों के बीच संबंध बिगड़ेंगे। मादुरो सरकार ने साब के मुकदमे पर कड़ी आपत्ति जतायी है और इसे अमेरिका द्वारा सत्ता परिवर्तन की अप्रत्यक्ष कोशिश करार दिया है।

अमेरिकी प्राधिकारी वर्षों से साब को निशाना बना रहे हैं और उनका मानना है कि साब के पास कई राज हैं कि कैसे मादुरो, उनके परिवार और शीर्ष सहायकों ने तेल समृद्ध देश में व्यापक पैमाने पर भुखमरी के बीच भोजन और आवास के लिए सरकार के ठेकों में करोड़ों रुपयों का गबन किया।

हालांकि, मादुरो सरकार समेत रूस और क्यूबा उनकी गिरफ्तारी को गैरकानूनी मानती है और उन्होंने कहा कि साब वेनेजुएला सरकार के कूटनीतिक दूत थे और इससे उन्हें मुकदमा चलाने से छूट मिलती है।

वेनेजुएला सरकार ने शनिवार को एक बयान जारी कर कहा कि अमेरिकी सरकार ने ‘‘केप वर्दे में प्राधिकारियों के साथ मिलीभगत करके साब का अपहरण’’ किया है।

मियामी में संघीय अभियोजकों ने साब पर कथित घूसखोरी योजना से जुड़े धन शोधन के आरोपों पर 2019 में मुकदमा चलाया था।

कोलंबिया के राष्ट्रपति इवान ड्यूक ने शनिवार को साब के प्रत्यर्पण की सराहना करते हुए इसे ‘‘तानाशाह निकोलस मादुरो द्वारा चलाए जा रहे नशीले पदार्थ की तस्करी, धन शोधन और भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई में जीत’’ बताया।

बहरहाल, अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन के प्रशासन ने साब की गिरफ्तारी की महत्ता को कमतर बताते हुए कहा कि वह अमेरिकी अदालतों में अपना बचाव कर सकते हैं और उनके मामले का असर वेनेजुएला के लंबे समय से चल रहे आर्थिक संकट और राजनीतिक युद्ध का समाधान निकालने के लिए हो रही वार्ता पर नहीं पड़ना चाहिए।

एपी गोला मानसी

मानसी