बाजार में लगातार तीसरे दिन गिरावट, सेंसेक्स 111 अंक टूटा |

बाजार में लगातार तीसरे दिन गिरावट, सेंसेक्स 111 अंक टूटा

बाजार में लगातार तीसरे दिन गिरावट, सेंसेक्स 111 अंक टूटा

: , July 1, 2022 / 06:36 PM IST

मुंबई, एक जुलाई (भाषा) घरेलू शेयर बाजारों में शुक्रवार को लगातार तीसरे दिन गिरावट आई और बीएसई सेंसेक्स 111.01 अंक टूटकर बंद हुआ।

सरकार के पेट्रोलियम उत्पादों के निर्यात पर कर लगाने के कारण रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) के शेयर में भारी गिरावट रही।

तीस शेयरों पर आधारित सूचकांक 111.01 अंक यानी 0.21 प्रतिशत की गिरावट के साथ 52,907.93 पर बंद हुआ। दिन के कारोबार में यह 924.69 अंक तक नीचे चला गया था।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 28.20 अंक या 0.18 प्रतिशत की गिरावट के साथ 15,752.05 पर बंद हुआ।

सरकार ने शुक्रवार को पेट्रोल, डीजल और विमान ईंधन (एटीएफ) पर निर्यात कर लगाया। साथ ही स्थानीय स्तर पर उत्पादित कच्चे तेल पर होने वाले अप्रत्याशित लाभ पर भी कर लगाया है।

सेंसेक्स में सबसे अधिक 7.14 फीसदी की गिरावट आरआईएल में हुई। इसके अलावा पावरग्रिड, एनटीपीसी, भारती एयरटेल, मारुति, डॉ. रेड्डीज लैबोरेटरीज और आईसीआईसीआई बैंक गिरने वाले प्रमुख शेयरों में शामिल थे।

दूसरी ओर आईटीसी, बजाज फाइनेंस, बजाज फिनसर्व, हिंदुस्तान यूनिलीवर, एशियन पेंट्स, टीसीएस और एचडीएफसी बढ़ने वाले प्रमुख शेयरों में शामिल थे। आईटीसी में सबसे अधिक 3.99 प्रतिशत की तेजी हुई।

जियोजित फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, ‘‘घरेलू बाजार से प्रतिकूल संकेतों के कारण रुपये में कमजोर रुख और तेल रिफाइनरियों में बिकवाली के कारण बाजार नुकसान में रहा।’’

सप्ताहिक आधार पर सेंसेक्स 179.95 अंक या 0.34 प्रतिशत चढ़ा, जबकि निफ्टी में 52.80 अंक या 0.33 प्रतिशत की तेजी रही।

सैमको सिक्योरिटीज में इक्विटी शोध प्रमुख येशा शाह ने कहा कि जल्द ही वित्त वर्ष 2022-23 की पहली तिमाही के वित्तीय नतीजे आने लगेंगे, जिससे शेयर आधारित गतिविधियां देखने को मिलेंगी।

बीएसई मिडकैप और स्मॉलकैप सूचकांक में क्रमश: 0.67 प्रतिशत और 0.09 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई।

क्षेत्रवार बात करें तो ऊर्जा में 3.99 प्रतिशत, तेल एवं गैस में 3.21 प्रतिशत, बिजली में 0.77 प्रतिशत और दूरसंचार में 0.36 प्रतिशत की गिरावट हुई। दैनिक सामान बनाने वाली कंपनियों के शेयरों का सूचकांक 2.47 प्रतिशत बढ़ा। इसके अलावा धातु, उपभोक्ता वस्तुओं, वित्त, स्वास्थ्य देखभाल और रियल्टी में भी तेजी रही।

अन्य एशियाई बाजारों में तोक्यो, सोल और शंघाई के बाजार गिरकर बंद हुए।

दोपहर कारोबार में यूरोपीय शेयर बढ़त के साथ कारोबार कर रहे थे। बृहस्पतिवार को अमेरिकी बाजार गिरावट के साथ बंद हुए।

इस बीच अंतरराष्ट्रीय तेल बेंचमार्क ब्रेंट क्रूड 1.90 फीसदी उछलकर 111.1 डॉलर प्रति बैरल के भाव पर पहुंच गया।

शेयर बाजार के अस्थाई आंकड़ों के मुताबिक विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) ने बृहस्पतिवार को शुद्ध रूप से 1,138.05 करोड़ रुपये के शेयर बेचे।

भाषा

पाण्डेय रमण

रमण

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

#HarGharTiranga